Suhani Raat Dhal Chuki Lyrics-Md.Rafi, Dulari

Title : सुहानी रात ढल चुकी
Movie/Album- दुलारी -1949
Music By- नौशाद
Lyrics By- शकील बदायुनी
Singer(s)- मो.रफी

सुहानी रात ढल चुकी, ना जाने तुम कब आओगे
जहां की रुत बदल चुकी, ना जाने तुम कब आओगे

नज़ारे अपनी मस्तियाँ, दिखा-दिखा के सो गये
सितारे अपनी रोशनी, लुटा-लुटा के सो गये
हर एक शम्मा जल चुकी, ना जाने तुम कब आओगे
सुहानी रात ढल…

तड़प रहे हैं हम यहाँ, तुम्हारे इंतज़ार में
खिजां का रंग, आ-चला है, मौसम-ए-बहार में
हवा भी रुख बदल चुकी, ना जाने तुम कब आओगे
सुहानी रात ढल…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *