Title : याद न जाये
Movie/Album/Film: दिल एक मन्दिर -1963
Music By: शंकर जयकिशन
Lyrics : शैलेन्द्र
Performed by: मो.रफ़ी

याद न जाए, बीते दिनों की
जा के न आये जो दिन
दिल क्यूँ बुलाए
उन्हें, दिल क्यों बुलाए

दिन जो पखेरू होते, पिंजरे में मैं रख लेता
पालता उनको जतन से, मोती के दाने देता
सीने से रहता लगाए
याद न जाए…

तस्वीर उनकी छुपा के, रख दूँ जहाँ जी चाहे
मन में बसी ये मूरत, लेकिन मिटी न मिटाए
कहने को हैं वो पराए
याद न जाए…

See also  Kahin Karti Hogi Lyrics-Mukesh, Lata Mangeshkar, Phir Kab Milogi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *