Title~ आज कल की लड़कियाँ Lyrics
Movie/Album~ चल मेरे भाई Lyrics 2000
Music~ आनंद -मिलिंद
Lyrics~ समीर
Singer(s)~ पूर्णिमा, सोनू निगम, विनोद राठोड़, वैजन्ती

आज कल की लड़कियाँ कमाल करती हैं
किसी को दिल में रखती हैं
किसी पे मरती हैं

आज कल के लड़के भी कमाल करते है
देखें किसी भी लड़की को
हाय आह भरते हैं
आज की लड़कियाँ…

एक तो हैं ये तीखी लौकी, उसपे नीम चढ़ी
कद इसका छोटा है लेकिन करती बात बड़ी
मुझे पता है डरता है ये, तीतर और बटेर से
हमसे कहता है ये लड़ जायेगा जा के शेर से
इसका चेहरा थोड़ा -थोड़ा मिलता है सलमान से
खुद को हीरो समझे ना ये, कह दो इस नादान से
ऊँची -ऊँची सैंडल उसपे पहन के काला चश्मा
बने हीरोइन समझे देखो खुद को ये करिश्मा
आज कल की तितलियाँ कमाल करती हैं
किसी को दिल में…

देखो यारों एक बंदरिया, चले हंस की चाल
गाना और बजाना चाहे, ना समझे सुर ताल
मिले जिसे ना वो कहता है, खट्टा है अंगूर
ऐसे लड़कों से तो अक्सर रहती हूँ मैं दूर
हर लड़की मुझको चाहे, मुझमें है ऐसी बात
देख-देख के मुझको जलती है ये तो दिन रात
चल मेरे भाई पंगा ना ले इससे तू बेकार में
कहीं लिपट जायेगा जा के, इस बिजली के तार में
आज कल की बिजलियाँ कमाल करती हैं
किसी को दिल में…

फूलों के रस में नहाई है, तारों की दुनिया से आई है
रूप सुहाना तू पाई है, सबके दिलों पे छाई है
तू जिस घर में जाएगी, सारे अँधेरे मिटाएगी
खुशियों के दीप जलाएगी, सबका नसीब जगाएगी
आज कल की छोरियाँ कमाल करती है
किसी को दिल में…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *