Title : आज फिर जीने की तमन्ना है Lyrics
Movie/Album/Film: गाईड Lyrics-1965
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics : शैलेन्द्र
Singer(s): लता मंगेशकर

काँटों से खींच के ये आँचल
तोड़ के बंधन बांधे पायल
कोई न रोको दिल की उड़ान को
दिल वो चला..
आज फिर जीने की तमन्ना है
आज फिर मरने का इरादा है

अपने ही बस में नहीं मैं
दिल है कहीं, तो हूँ कहीं मैं
जाने का पया के मेरी ज़िंदगी ने
हँस कर कहा..
आज फिर जीने…
मैं हूँ गुबार या तूफ़ां हूँ
कोई बताए मैं कहाँ हूँ
डर है सफ़र में कहीं खो न जाऊँ मैं
रस्ता नया..
आज फिर जीने…

कल के अंधेरों से निकल के
देखा है आँखें मलते-मलते
फूल ही फूल ज़िंदगी बहार है
तय कर लिया..
आज फिर जीने…

See also  Meri Duniya Tu Lyrics Sonu Nigam, Shaan, Shankar Mahadevan, Heyy Babyy

One thought on “Aaj Phir Jeene Ki Tamanna Hai Lyrics-Lata Mangeshkar, Guide

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *