Apne Dil Se Badi Dushmani Lyrics-Lata Mangeshkar, Shabbir Kumar, Betaab

Title – अपने दिल से बड़ी दुश्मनी Lyrics
Movie/Album- बेताब Lyrics-1983
Music By- राहुल देव बर्मन
Lyrics- आनंद बक्षी
Singer(s)- लता मंगेशकर, शब्बीर कुमार

अपने दिल से बड़ी दुश्मनी की
किसलिए मैंने तुमसे दोस्ती की
अपने दिल को जला के रोशनी की
किसलिए मैंने तुमसे दोस्ती की
अपने दिल से बड़ी दुश्मनी…

तुमने अच्छा सहारा दिया, बेसहारा मुझे कर दिया
कल गले से लगाया मुझे, आज ठुकरा दिया बेवफा
तुमने अच्छी सनम दिल्लगी की, किसलिए मैंने तुमसे दोस्ती की
अपने दिल से बड़ी दुश्मनी…

आसमां बन गयी ये ज़मीं, मेरे हमदम मेरे हमनशीं
तुमने देखी मेरी बेरूख़ी, बेबसी मेरी देखी नहीं
मैं हूँ तस्वीर इक बेकसी की, किसलिए मैंने तुमसे दोस्ती की
अपने दिल को जला के…

हर खुशी बस पराई हुई, मेरी दुश्मन खुदाई हुई
मुझको अफ़सोस है प्यार में, मुझसे ये बेवफ़ाई हुई
मैंने तुम पे फिदा ज़िंदगी की, किसलिए मैंने तुमसे दोस्ती की
अपने दिल को जला के…

Leave a Comment

Your email address will not be published.