Title – गोकुल की गलियों का Lyrics
Movie/Album- रास्ते प्यार के Lyrics-1982
Music By- लक्ष्मीकांत -प्यारेलाल
Lyrics- आनंद बक्षी
Singer(s)- किशोर कुमार, ऊषा मंगेशकर, आशा भोंसले

गोकुल की गलियों का ग्वाला
नटखट बड़ा नंद लाला
गोरे से हो गया काला
गोकुल की गलियों का…
काले ने सबको अंग लगा के
काले रंग मे रंग डाला
गोकुल की गलियों का…

लो चंदन का टीका लगा दो
लो चंदन का टीका लगा दो
मोहन को मनमोहन बना दो
मोर मुकुट इसको पहना दो
हाथों में मुरली पकड़ा दो
मुरली बना लूँ, मुँह से लगा लूँ
आ तोहे ओ ब्रिज बाला
गोकुल की गलियों का…

जमुना किनारे अपना ठिकाना
जमुना किनारे अपना ठिकाना
पनिया भरण तू पनघट पे आना
घूँघट में फिर ये मुखड़ा छुपाना
छेड़ेगा तुझको सारा ज़माना
देता है धमकी तोड़ के मटकी
माखन चुराने वाला
गोकुल की गलियों का…

पकड़ा गया छलिया सब देखे
भागेगा कैसे ये अब देखें
मेरा ढंग मेरा रब देखे
आज तमाशा सब देखे
किसी जतन से नहीं किसी के
हाथ में आने वाला
गोकुल की गलियों का…

See also  Dhaai Akshar Prem Ke Lyrics Anuradha Paudwal, Babul Supriyo, Title Track

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *