Kaun Aaya Raaste Lyrics- Jagjit Singh, Visions Vol.2

Title ~ कौन आया रास्ते Lyrics
Movie/Album ~ विज़न्स वॉल्यूम २ Lyrics- 1992
Music ~ जगजीत सिंह
Lyrics ~ बशीर बद्र
Singer (s)~जगजीत सिंह

कौन आया, रास्ते आईना-ख़ाने हो गए
रात रौशन हो गई, दिन भी सुहाने हो गए
कौन आया…

ये भी मुमकिन है कि मैंने उसको पहचाना न हो
अब उसे देखे हुए, कितने ज़माने हो गए
रात रौशन हो गई…

जाओ उन कमरों के आईने उठाकर फेंक दो
बे-अदब ये कह रहें हैं, हम पुराने हो गए
रात रौशन हो गई…

मेरी पलकों पर ये आँसू, प्यार की तौहीन हैं
उसकी आँखों से गिरे, मोती के दाने हो गए
रात रौशन हो गई…

Leave a Comment

Your email address will not be published.