Title~ मैं जहाँ रहूँ Lyrics
Movie/Album~ नमस्ते लन्दन 2007
Music~ हिमेश रेशमिया
Lyrics~ जावेद अख्तर
Singer(s)~ राहत फ़तेह अली खान, कृष्णा बेउरा

मैं जहाँ रहूँ, मैं कहीं भी हूँ
तेरी याद साथ है
किसी से कहूँ, के नहीं कहूँ
ये जो दिल की बात है
कहने को साथ अपने एक दुनिया चलती है
पर छुपके इस दिल में तन्हाई पलती है
बस याद साथ है
तेरी याद…

कहीं तो दिल में यादों की इक सूली गढ़ जाती है
कहीं हर एक तस्वीर बहुत ही धुंधली पड़ जाती है
कोई नयी दुनिया के नए रंगों में खुश रहता है
कोई सब कुछ पाके भी ये मन ही मन कहता है
कहने को साथ…

कहीं तो बीते कल की जड़ें दिल में ही उतर जाती है
कहीं जो धागे टूटे तो मालाएं बिखर जाती है
कोई दिल में जगह नयी, बातों के लिए रखता है
कोई अपनी पलकों पर यादों के दिए रखता है
कहने को साथ…

See also  Gaa Raha Hoon Is Mehfil Mein Lyrics- Kumar Sanu, Dil Ka Kya Kasoor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *