Title ~ मेरे महबूब मेरे सनम Lyrics
Movie/Album ~ डुप्लीकेट Lyrics- 1998
Music ~ अनु मलिक
Lyrics ~ जावेद अख्तर
Singer (s)~उदित नारायण, अलका याग्निक

कब मैंने ये सोचा था
कब मैंने ये जाना था
तुम इतने बदल जाओगे
तुम इतना मुझे चाहोगे
तुम इतना प्यार करोगे
तुम यूं इकरार करोगे
मेरे महबूब मेरे सनम
शुक्रिया मेहरबानी करम

आँखों में जो नर्मी है पहले तो नहीं थी
साँसों में जो गर्मी है पहले तो नहीं थी
पहले तो न यूँ छाईं थीं, ज़ुल्फ़ों की घटाएं
पहले तो न यूँ महकी थीं, आंचल की हवाएं
पहले तो नहीं आती थीं, तुमको ये अदाएं
आज कितने हसीं हैं सितम
शुक्रिया मेहरबानी…

तुम पर मेरे प्यार का जादू पहले तो नहीं था
दिल जैसा है बेकाबू पहले तो नहीं था
पहले तो नहीं होती थीं, यूं प्यार की बातें
हैरान हूँ मैं सुनके, सरकार की बातें
इकरार की बातें हों या इनकार की बातें
बात छेड़ी तो है कम से कम
शुक्रिया मेहरबानी…

See also  Meri Zindagi Ne Mujhpe Lyrics-Kishore Kumar, Do Aur Do Paanch

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *