Title~ सलाम नमस्ते Lyrics
Movie/Album~ सलाम नमस्ते 2005
Music~ विशाल -शेखर
Lyrics~ जयदीप साहनी
Singer(s)~ कुणाल गांजावाला, वसुंधरा दास

एक दिन एक पल एक जाणिया
आज है कल फिर उड़ जाणिया
उड़ जाणिया, उड़ जाणिया, उड़ जाणिया
आ मिल जा फ़िर गले, हँसते-हँसते
सलाम नमस्ते…

झूमते सारे, ये नज़ारे हैं
जान लो इनका मतलब, ये इशारे हैं
काम के कितनी, ये बहारें हैं
बीते पल दो पल में ये, सब दीवारें हैं
ज़रा हाथ तो उठाना, थोड़ा भंगड़ा तो पाना
दिल दिल से मिलना, मेरे जाणिया
ये वक़्त सुहाना, बन जायेगा बहाना
कम्बख्त ज़माना मेरे जाणिया
सलाम नमस्ते…

राह में चलते, मिलता है कोई
देख के तेरी खुशियाँ, खिलता है कोई
हँस के कर लेना, बात तू कोई
देखना तेरी किस्मत, जागी या सोई
लुट जाए ज़िन्दगानी, जो भी कहनी सुनानी
कह दे वो कहानी, मेरे जाणिया
तेरी-मेरी ये जवानी एक बार है ये आनी
फिर खत्म कहानी, मेरे जाणिया
आ मिल जा फिर गले…

See also  Tu Hi Re Lyrics- Hariharan, Kavita Krishnamurthy, Bombay

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *