Title~ वो लड़की है कहाँ Lyrics
Movie/Album~ दिल चाहता है 2001
Music~ शंकर -एहसान -लाॅय
Lyrics~ जावेद अख़्तर
Singer(s)~ शान, कविता कृष्णमूर्थी

जिसे ढूँढता हूँ मैं हर कहीं
जो कभी मिली मुझे है नहीं
मुझे जिसके प्यार पर हो यकीं
वो लड़की है कहाँ
जिसे सिर्फ मुझसे ही प्यार हो
जो ये कहने को भी तैयार हो
सुनो तुम ही मेरे दिलदार हो
वो लड़की है कहाँ

जो तुम्हारे ख्वाबों में है बसी
वो हसीन मूर्ति प्यार की
मिलेगी तुम्हें कभी ना कभी
ज़रा देखो यहाँ-वहाँ
चलो ढूँढते हैं हम-तुम कहीं
वो परी वो हूर वो नाज़नीं
जिसे देखो तो कहो तुम वही
अरे ये तो है यहाँ

जाने क्यों ख्याल आया मुझे
कि वो लड़की कहीं तुम तो नहीं
तुममें है वो सारी खूबियाँ
था जिनको ढूँढता मैं हर कहीं
तुम्हें धोखा लगता है हो गया
मुझे है समझ लिया जाने क्या
ना मैं हूँ परी ना मैं अप्सरा
करो तुम ना ये गुमाँ
जिसे ढूँढता हूँ मैं…

मान लो अगर मैं ये कहूँ
के मेरे ख्वाबों में तुम ही तो हो
जान लो मेरा अरमान है
के मेरे साथ ही अब तुम रहो
मुझे तुमने क्या ये समझा दिया
मेरे दिल को जैसे धड़का दिया
मेरे तन -बदन को पिघला दिया
वो सुनाई दासताँ

जिसे ढूँढता हूँ मैं हर कहीं
जो कभी मिली मुझे है नहीं
मुझे जिसके प्यार पर हो यकीं
वो लड़की है कहाँ
वो लड़की है यहाँ…

See also  Govinda Aala Re Aala Lyrics-Md.Rafi, Bluff Master

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *