Title ~ ये जो थोड़े से हैं पैसे Lyrics
Movie/Album ~ पापा कहते हैं Lyrics- 1996
Music ~ राजेश रोशन
Lyrics ~ जावेद अख्तर
Singer (s)~कुमार सानू

ये जो थोड़े से हैं पैसे
खर्च तुम पर करूँ कैसे
ये जो थोड़े से हैं पैसे…

अगर कहीं एक दुकान होती
जहाँ पे मिलते गगन के तारे
मैं सारे तारे खरीद लेता
तुम्हारे आँचल में टांक देता
मगर क्या करूँ मैं कि ये जानता हूँ
तारे मिलते नहीं ऐसे
ये जो थोड़े से हैं पैसे…

अगर कहीं एक दुकान होती
जहाँ पे मिलते हसीन सपने
मैं सारे सपने खरीद लाता
तुम्हारी पलकों पे मैं सजाता
मगर क्या करूँ मैं कि ये जानता हूँ
सपने मिलते नहीं ऐसे
ये जो थोड़े से हैं पैसे…

मैं जानता हूँ, मैं जानता हूँ
कहाँ ये पैसे कहाँ मोहब्बत
कहाँ ये ज़र्रे, कहाँ वो पर्वत
कहाँ ये कागज़ की एक नाव
कहाँ वो जज़्बात का बहाव
ये सच है मगर फिर भी मैं सोचता हूँ
ये जो थोड़े से हैं पैसे…

See also  Jag Soona Soona Lyrics Richa Sharma, Rahat Fateh Ali Khan, Om Shanti Om

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *