अत्याचार जो करते रहे – आग के शोले lyrics

कल तक जनता पे
अत्याचार जो करते रहे
अब पड़ा मतलब तो
हमदर्द बनकर आ गए

बालम पतियो न
बालम पतियो न
बालम पतियो न हम
तुम्हे न देंगे वोट
हम तुम्हे न देगे
वोट बहुत बतियाओ न
बालम पतियो न

वही हो तुम जिसने जनता
के मुँह से छीनी रोटी
वही हो तुम जिसने जनता
के मुँह से छीनी रोटी
छीन के रोटी दिल न भरा
तो छीन ली लँगोटी
बालम पतियो न
बालम पतियो न हम
तुम्हे न देंगे वोट
हम तुम्हे न देगे
वोट बहुत बतियाओ न
बालम पतियो न

हाकिम उसे बनायेगे जो
हुकुम न हम पे चलाये
अरे हाकिम उसे बनायेगे जो
हुकुम न हम पे चलाये
नेता उसे बनायेगे जो मॉल
न घर ले जाये बालम पतियो
बालम पतियो न हम
तुम्हे न देंगे वोट
हम तुम्हे न देगे
वोट बहुत बतियाओ न
बालम पतियो न

हर बहुत पहने फूलो
के अब जूतों के पेहनो
हर बहुत पहने फूलो
के अब जूतों के पेहनो
बेलन लेकर इनकी
चपाती कला बनाओ
बहम बालम पतियो न
बालम पतियो न हम
तुम्हे न देंगे वोट
हम तुम्हे न देगे
वोट बहुत बतियाओ न
बालम पतियो न

उजले कपड़े पहने लेकिन
मन हैं तेरा काला
उजले कपड़े पहने लेकिन
मन हैं तेरा काला
ोये बगलाभकत बनकर
लाखो का किया घोटाला
ोये मैं क्या झुट
बोलिया ोये नहीं.

आग के शोले – अत्याचार जो करते रहे lyrics

Movie/album- आग के शोले
Singers- अलका याग्निक
Song Lyrics/Lyricis- न/अ
Music Composer- विजय बटालवी
Music Director- विजय
Music Label- शेमारू
Movie Cast/Starring- हेमंत बिरजे
Release on- १४थ अक्टूबर

Leave a Comment

Your email address will not be published.