Song Title: Ishq Parasti
Lyrics by: Masshe Uddin Qureshi
Singer: Yasser Desai
Composer: Siddharth Parashar

Ishq Parasti Lyrics in Hindi

तू मेरी जान तू ही मेरा जहाँ
डोर तेरे तों अब जौन कहाँ

तू मेरी जान तू ही मेरा जहाँ
डोर तेरे तों अब जौन कहाँ
तेरी बाहों विच मेरी जन्नतन
तेरी बाहों विच मेरी जन्नतन

मैनु रंग चढ़ेया इश्क़ परस्ती दा
मैनु रंग चढ़ेया इश्क़ परस्ती दा
मैनु ना वेखेया दूजा हस्ती सा

तू मेरी जान तू ही मेरा जहाँ
डोर तेरे तों अब जौन कहाँ

तुझे जो देखा तो हुँने
मोहब्बत है सीख ली
तेरी आँखों में जो डूबे
तो जन्नत देख ली

हो हीरिए सुन्न हीरिए
हो हीरिए सुन्न हीरिए

तेरी बाहों विच मेरी जन्नतन
तेरी बाहों विच मेरी जन्नतन

मैनु रंग चढ़ेया इश्क़ परस्ती दा
मैनु रंग चढ़ेया इश्क़ परस्ती दा
मैनु ना वेखेया दूजा हस्ती सा

See also  मौसम है मस्ताना - वक़्त हमारा है lyrics

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *