चल सोच ले अगर इतना
सोचना है
तोह सोच ले
तेरी धड़कन मेरी
प्यास बुझाए
खोटे खोटे दम मिल जाए
पिला दे रे ो साक़ी रे

सोच सोच के बुरा हाल है
ये दुनिया जी किस पे कड़ी है
लगी मोच न कोने घुटने में
बल्कि सुसुरे सर में

ाजी ध्यान से देखो
ध्यान से भैया
पर इतना ना ध्यान लगाना
की तेरे माथे की शिकन
वहीँ रह जाए रे

है जी इस कलयुग में
काफी अजीब सिलसिले
मैं तुझे सदियों
से जानता हू बीटा
तू साला घूरता रहेगा साल
सोचता रहेगा साल
खटकता रहेगा साक़ी रे

चल सोच ले जितना सोचना है
उतना सोच ले

न ागली न पिछली
ये सीढ़ी सी बातें
न किसी को प्यारी न हमारी
इन् शब्दों को जला दे जला दे
ये प्यारा झटका जोर से लागे
दिल मेरा भागे
दिल मेरा भागे रे

ो साक़ी रे
जोर झगड़ के कुछ भी करके
याद रखिये मेरे लड़के
तेरा दिमाग़ नहीं आसान

है जी इस कलयुग में
काफी अजीब सिलसिले
मैं तुझे सदियों
से जानता हू बीटा
तू साला घूरता रहेगा साल
सोचता रहेगा साल
खटकता रहेगा साक़ी रे

सीधे साधे पूरे आधे
तोड़ के रख दे सारे वादे

जो हैं भूले
भटके और ठुकराये
रेह न दायें
और ना बायें

कभी ना कभी
तोह याद आयें
कभी ना कभी वह
भी याद आएंगे.

४०४ – चल सोच ले lyrics

Movie/album- ४०४
Singers- इमाद शाह
Song Lyrics/Lyricist- इमाद शाह
Music Composer- इमाद शाह
Music Director- इमाद शाह
Music Label- सागा म्यूजिक
Movie Cast/Starring- इमाद शाह
Release on- २०थ माय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *