Jinke liye hum rote hain Lyrics in Hindi, Lyrics pinned by Jaani,

जिनके लिए हम रोते हैं Song Detail
Song Title: Jinke Liye
Singer: Neha Kakkar
Lyrics: Jaani
Music: B Praak
Label: T-Series

Jinke liye hum rote hain Lyrics in Hindi

तेरे लिए मेरी इबादतें वही है
तेरे लिए मेरी इबादतें वही है
तू शरम कर तेरी आदतें वही है
तू शरम कर तेरी आदतें वही है

जिनके लिए हम रोते हैं
हो जिनके लिए हम रोते हैं
वो किसी और की बाहों में सोते हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
वो किसी और की बाहों में सोते हैं

हम गलियों में भटकते फिरते हैं
वो समंदर किनारों पे होते हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
वो किसी और की बाहों में सोते हैं
पागल हो जाओगे आना कभी ना
गलियों में उनकी जाना कभी ना
जाना कभी ना
हम जिंदा गए करीब उनके
अब देखो मरे हुए लौटे हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
वो किसी और की बाहों में सोते हैं
रा रा रारा

हाथों से खेलते होंगे या पैरों से
फुर्सत कहाँ अब उनको है गैरों से
हाथों से खेलते होंगे या पैरों से
फुर्सत कहाँ अब उनको है गैरों से

उनकी मोहब्बतें हर जगह
वो जो कहते थे हम इकलौते हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
वो किसी और की बाहों में सोते हैं

कभी यहाँ बात करते हो
कभी वहाँ बात करते हो
आप बड़े लोग हो साहब
हमसे कहाँ बात करते हो

आज उस शख्स का नाम बताएँगे
जानी था जानी मिले जिस कायर से
गलती थी छोटी मोहब्बत करी जो
गलती बड़ी थी की कर बैठे शायर से
आग का दरिया जफां उनकी
हर दिन लगाने गोते हैं

See also  चुपके ही चुपके न जाने - १८५७ lyrics |

जिनके लिए हम रोते हैं
किसी और की बाहों में सोते हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
किसी और की बाहों में सोते हैं
आ आ आ
हो जिनके लिए हम रोते हैं
किसी और की बाहों में सोते हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
किसी और की बाहों में सोते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *