Movie Name/Album Name- ज़िद
Singer(s)- शारिब साबरी
Song Lyrics- शकील आज़मी
Composer- शारिब साबरी
Director- शारिब साबरी
Music Label- सोनी म्यूजिक
Starring/Cast – करणवीर शर्मा
Released Date- २८थ नवंबर

ज़िद – तू ज़रूरी lyrics

ऐसा लगा मुझे पहली दफा
तनहा मैं हो गयी यारा

हो ऐसा लगा मुझे पहली दफा
तनहा मैं हो गयी यारा
हूँ परेशां सी मैं
अब ये कहने के लिए
तू ज़रूरी सा है मुझको
ज़िंदा रहने के लिए
हो तू ज़रूरी तू ज़रूरी
सा है मुझको सा है मुझको
ज़िंदा रहने के लिए
ज़िंदा रहने के लिए

ऐसा लगा मुझे पहली दफा
तनहा मैं हो गया यारा
हूँ परेशां सा मैं
अब ये कहने के लिए

तू ज़रूरी सा है मुझको
ज़िंदा रहने के लिए
हो तू ज़रूरी तू ज़रूरी
सा है मुझको सा है मुझको
ज़िंदा रहने के लिए
ज़िंदा रहने के लिए

धड़के आँखों में दिल मेरा
जब क़रीब आऊं तेरे
मम देखूं मैं जब भी आइना
हाँ तू ही रूबरू रहे मेरे

इश्क़ की मौज में आ
आजा बहने के लिए
तू ज़रूरी तू ज़रूरी
सा है मुझको
ज़िंदा रहने के लिए
ा तू ज़रूरी तू ज़रूरी
सा है मुझको सा है मुझको
ज़िंदा रहने के लिए
ज़िंदा रहने के लिए
तू ज़रूरी

माँगू न कोई आसमान
दो सितारों का जहां
बंजा तू मेरा हमसफ़र न
मुझे चाहिए कोई मुकाम
दिल ही काफ़ी है तेरा
मेरे रहने के लिए

तू ज़रूरी सा है मुझको
ज़िंदा रहने के लिए
हो तू ज़रूरी तू ज़रूरी
ा है मुझको सा है मुझको
ज़िंदा रहने ज़िंदा रहने
तू ज़रूरी तू ज़रूरी
सा है मुझको
ज़िंदा रहने के लिए
तू ज़रूरी.

See also  सरफ़रोशी की तमन्ना - २३र्ड मार्च १९३१: शहीद lyrics s

https-//www.youtube.com/watch?v=38J7z-ZJz2A

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *