दुनिया वालों के – ज़िन्दगी और मौत lyrics

खत का मजमूं भांप

लेता हु लिफाफा देखकर
अरे खत का मजमूं भांप
लेता हु लिफाफा देखकर

हर हाल दिल का मैं बता
देता हु चेहरा देखकर

दुनिया वालों के मुकद्दर
की खबर रखता हु

दुनिया वालों के मुकद्दर
की खबर रखता हु

आंख वाला हु मैं अंदर
की खबर रखता हु

दुनिया वालों के मुकद्दर
की खबर रखता हु

देख प्यारे मेरे करतब नहीं ऐसे वैसे
तेरी पॉकेट में है चालीस रूपए
चालीस रूपए दो पैसे

जानेमन मैं तेरे जन्मान मैं
तेरे घर वॉर की खबर रखता हु

दुनिया वालों के मुकद्दर
की खबर रखता हु

दुनिया वालों के मुकद्दर
की खबर रखता हु

आप मैडम है बहुत नेक बहुत ही सादा
आपकी उम्र नहीं सोलह बरस

नहीं सोलह बरस से ज्यादा
आपके साथ आपके साथ में

सोहर की खबर रखता हु
दुनिया वालों के मुकद्दर
की खबर रखता हु

दुनिया वालों के मुकद्दर
की खबर रखता हु

तेरी मुछो के ये कटे
जो खींचे रहते है

इनमें हर वक़्त सवा नौ ही
सवा नौ ही बजे रहते है

बिना घड़ियाल बाबू बैना
घड़ियाल घडी की खबर रखता हु

दुनिया वालों के मुकद्दर
की खबर रखता हु

आंख वाला हु मैं अंदर
की खबर रखता हु

दुनिया वालों के मुकद्दर
की खबर रखता हु.

ज़िन्दगी और मौत – दुनिया वालों के lyrics

Movie/album- ज़िन्दगी और मौत
Singers- प्रबोध चन्द्र डे (मन्ना डे)
Song Lyricists- शकील बदायूंनी
Music Composer- रामचंद्र नरहर चितलकर (स. रामचंद्र)
Music Director- रामचंद्र नरहर चितलकर (स. रामचंद्र)
Music Label- सारेगामा
Starring/Cast- प्रदीप कुमार
Release on-

Leave a Comment

Your email address will not be published.