निगाहे शौक से कह दो – वांटेड lyrics

Movie Name/Album Name- वांटेड
Singer(s)- आशा भोसले
Song Lyrics- शकील बदायूंनी
Composer- रवि शंकर शर्मा (रवि)
Director- रवि शंकर शर्मा (रवि)
Music Label- सारेगामा
Starring/Cast – विजय कुमार
Released Date-

वांटेड – निगाहे शौक से कह दो lyrics

निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
निगाहे शौक से

निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
हमारे इश्क़ की दुनिया का ेत्रम करे
हमारे इश्क़ की दुनिया का ेत्रम करे
निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
निगाहे शौक से

निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
अदब के साथ जरा हुस्न से कलम करे
अदब के साथ जरा हुस्न से कलम करे
निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
निगाहे शौक से

हमीं ने तुमको गुजरा है दिल की राहों से
हमीं ने तुमको गुजरा है दिल की राहों से
हमीं ने तुमको गुजरा है दिल की राहों से
शोखी भरी नजरो को हया हमने सिखाई
मासूम अदाओं को जफ़ा हमने सिखाई
ये नाज़ ये अंदाज़ ये गुंजा ये तबस्सुम
जो बात सिखै बा खुद हमने सिखाई
हमीं ने तुमको गुजरा है दिल की राहों से
हमीं ने तुमको गुजरा है दिल की राहों से
जो हम न देखे मोहब्बत भरी निगाहों से
जो हम न देखे मोहब्बत भरी निगाहों से
ाजी तो कौन दुनिआ में
तो कौन दुनिआ में ऊँचा तुम्हारा करे
तो कौन दुनिआ में ऊँचा तुम्हारा करे
निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
अदब के साथ जरा हुस्न से कलम करे
निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
निगाहे शौक से

हमारे डैम से ही दुनिया इश्क है कायम
हमारे डैम से ही दुनिया इश्क है कायम
हमारे डैम से ही दुनिया इश्क है कायम
उठाते है क़यामत छेड़ कर
हम दिल के तारो को
सुकून दिल भी मिलता है हमीं से
बेक़रारो को
हमारी कुछ न पूछो
हम है मालिक अपनी मर्ज़ी के
मिटाते है हज़ारो को
बनाते है हज़ारो को
हमारे डैम से ही दुनिया इश्क है कायम
हमारे डैम से ही दुनिया इश्क है कायम
जो हम ऐडा को न तोके तो लूट ले जालिम
जो हम ऐडा को न तोके तो लूट ले जालिम
जो हम नजर को
जो हम नजर को न रोके तो कत्ल आम करे
जो हम नजर को न रोके तो कत्ल आम करे
हो कत्ले आम करे
हा हा कत्ले ाम करे
हाय कत्ले आम करे
निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
हमारे इश्क़ की दुनिआ का ेत्रम करे
निगाहे शौक से

मिली है हमसे ही कातिल ऐडा हसीनो को
मिली है हमसे ही कातिल ऐडा हसीनो को
मिली है हमसे ही कातिल ऐडा हसीनो को
निगाहे इश्क न करती जो इंक़लाब तुमसे
तो कौन कहता ज़माने में लाज़वाब तुझे
तुम अपनी जिद्द में हमारे करम को मत भूलो
दिया है हमने ही
ये हुस्न ये सबब तुम्हे
मिली है हमसे ही कातिल ऐडा हसीनो को
मिली है हमसे ही कातिल ऐडा हसीनो को
दुआए दीजे हमारे धड़कते सीनों को
दुआए दीजे हमारे धड़कते सीनों को
जो हम न हो तो
जो हम न हो तो मोहबत कहा कायम करे
जो हम न हो तो मोहबत कहा कायम करे
अदब के साथ जरा हुस्न से कलम करे
निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
निगाहे शौक से

वो कौन है के जिसे नाज़ है मोहब्बत पर
वो कौन है के जिसे नाज़ है मोहब्बत पर
वो कौन है के जिसे नाज़ है मोहब्बत पर
नयी दुनिआ के कैसे इश्क वाले है
खुदा जाने
भुला बैठे है जो
दिलसे वफ़ादारी के ज़माने
नजर आता है काम
जैसे मोहबत जन निसारो में
के अब जलते नहीं
बेहोश हो जाते है परवाने
वो कौन है के जिसे नाज़ है मोहब्बत पर
वो कौन है के जिसे नाज़ है मोहब्बत पर
हमारे कदमों में मिलती है
जिंदगी मिट कर
हमारे कदमों में मिलती है
जिंदगी मिट कर
जो जीना चाहे वो मरने का इंतजाम करे
जो जीना चाहे वो मरने का इंतजाम करे
मरने का इंतजाम करे
हा हा जी इन्तेज़ाम करे
हाय हाय जी इन्तेज़ाम करे

निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
निगाहे शौक से कह दो हमें सलाम करे
निगाहे शौक से.

Leave a Comment

Your email address will not be published.