न जाने कहाँ तुम थे – ज़िन्दगी और ख्वाब lyrics

न जाने कहाँ तुम थे
न जाने कहाँ तुम थे
जादू ये देखो हम तुम मिले है
न जाने कहाँ तुम थे
न जाने कहाँ तुम थे
अब तो मिलान के सपने खिले है
न जाने कहाँ तुम थे
न जाने कहाँ तुम थे

कितने दिनों पर मिली है निगाहे
कितने दिनों पर मिली है निगाहे
अब तुम न जाने छुडा कर ये बहे
अब तुम न जाना छुडा कर ये बहे
तुम्हारा ये साथ प्यारा हम क्यों न चाहे
न जाने कहाँ तुम थे
न जाने कहाँ तुम थे
जादू ये देखो हम तुम मिले है
न जाने कहाँ तुम थे
न जाने कहाँ तुम थे

किसे था पता यु हम तुम मिलेंगे
किसे था पता यु हम तुम मिलेंगे
उजड़े हुए दिल फिर से बसेंगे
उजड़े हुए दिल फिर से बसेंगे
मोहब्बत के बंधन में
हम तुम बँधेंगे
अब तो मिलान के सपने खिले है
न जाने कहाँ तुम थे
न जाने कहाँ तुम थे
जादू ये देखो हम तुम मिले है
न जाने कहाँ तुम थे
न जाने कहाँ तुम थे.

ज़िन्दगी और ख्वाब – न जाने कहाँ तुम थे lyrics

Movie/album- ज़िन्दगी और ख्वाब
Singers- प्रबोध चन्द्र डे (मन्ना डे)
Song Lyricists- रामचंद्र बारयांजी द्विवेदी (कवि प्रदीप)
Music Composer- दत्ताराम वाडकर
Music Director- दत्ताराम वाडकर
Music Label- सारेगामा
Starring/Cast- राजेंद्र कुमार
Release on-

Leave a Reply