मन की डोरी Mann Ki Dori Hindi Lyrics – Gunjan Saxena 2020

Mann Ki Dori Song Detail
Song Title: Mann Ki Dori
Movie: Gunjan Saxena
Lyrics: Kausar Munir
Singer: Armaan Malik
Composed & Produced by Amit Trivedi
Music Label: Zee Music Company

Mann Ki Dori Lyrics in Hindi

जिस पल से दखा है तुझको
मन ये पगल गया रे
पीछे पीछे देखो
तेरे हद्द से निकल गया रे
हो जिस पल से दखा है तुझको
मन ये पगल गया रे
पीछे पीछे देखो
तेरे हद्द से निकल गया रे

तू जहाँ वहाँ लेके जाए
ये राहें मोरी
की तुझ संग बांधी
की तुझ संग बांधी
की तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी

की तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी
की तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी
रे रे रे
तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी

हो दाँतों से काटे
हाथों से खिंचे
डोर ये तेरी मेरी
तोड़े ना टूटे

हो धूप के दिन हो या
सर्दी की राते
डोर ये तेरी मेरी
छोड़े ना छूटे

तू जहाँ वहाँ लेके जाए
ये राहें मोरी
की तुझ संग बांधी
की तुझ संग बांधी
की तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी
की तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी
की तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी
रे रे रे..
तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी

की तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी
की तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी
रे रे रे..
की तुझ संग बांधी
ये मन की डोरी
हे हे हे..

Music Video of Mann Ki Dori Song

Leave a Reply