रह गए कहाँ Reh Gaye Kahan Hindi Lyrics – Gurashish Singh

TSK.

Song Title:Reh Gaye Kahan
Lyrics:Gurashish Singh
Singer:Gurashish Singh
Music:TSK

Reh Gaye Kahan Lyrics in Hindi

क्या तुमको याद है
वो पहला दिन प्यार का
पहली उस रात में
तेरा मुझसे यूँ मिलना

हर पल ही था हसीन
जो गुज़्रा तेरे साथ था
हर वो लम्हा जैसे
लगता है ख्वाब था

जाना ही था तो यह बता
पहले ही क्यूँ यह ना कहा
छ्चोड़ना ही था अगर
फिर क्यूँ यह वादा किया

क्यूँ अब सहता है दिल मेरा
हन कैसी दी है यह सज़ा
क्यूँ मेरे साथ ना चल पाए
तुम हो रह गये कहाँ

क्यूँ मिलके भी हैं ना मिले
क्यूँ अब इतने हैं फ़ासले
क्यूँ मेरे साथ रह ना पाए
तुम हो रह गये कहाँ

उलझे उलझे हुए हैं दोनो के रास्ते
बिखरे बिखरे हुए हैं सपने सभी
अब भी वहीं खड़ा हूँ मैं तेरे वास्ते
तुमने नही है देखा मूड के कभी

कह दिया तुमसे
कहना अब जो भी था
पर कभी कह ना पाए
तुम थी क्या मेरी ख़ाता

क्यूँ अब सहता है दिल मेरा
हन कैसी दी है यह सज़ा
क्यूँ मेरे साथ ना चल पाए
तुम हो रह गये कहाँ

क्यूँ मिलके भी हैं ना मिले
क्यूँ अब इतने हैं फ़ासले
क्यूँ मेरे साथ रह ना पाए
तुम हो रह गये कहाँ

Leave a Comment

Your email address will not be published.