साँस है जब तलक – २३र्ड मार्च १९३१: शहीद lyrics

साँस है जब तलक ना रुकेंगे कदम
चल पड़े है तो मज़िल को पा जाएंगे
जान प्यारी नहीं वतन से हमे
मरते मरते सभी को बताजाएन्गे
ऐ वतन

वो जवानी जो खु को जलाती नहीं
वो वतन के लिए रैग लाती नहीं
दाग लेकर गुलामी का क्यूँ हम जिए
सोच कर रात को नींद आती नहीं
साँस है जब तलक
न रुके ंग कदम
जान प्यारी नहीं वतन से हमे
मरते मरते सभी को बताजाएन्गे
ऐ वतन

हमने तय कर लिया हमने ले ली कसम
खून से अपने सिचेंगे हम ये चमन
जान लेकर हथेली पे हम चल दिए
बांधकर सर पे निकले है हम ये कफन
साँस है जब तलक
न रुके ंग कदम
जान प्यारी नहीं वतन से हमे
मरते मरते सभी को बताजाएन्गे
ऐ वतन
ऐ वतन

| २३र्ड मार्च १९३१: शहीद – साँस है जब तलक lyrics

Movie/album- २३र्ड मार्च १९३१: शहीद
Singers- हंस राज हंस
Song Lyrics/Lyricis- देव कोहली
Music Composer- आनंद राज आनंद
Music Director- आनंद राज आनंद
Music Label- टी-सीरीज
Movie Cast/Starring- बॉबी देओल
Release on- ७थ जून

Leave a Comment

Your email address will not be published.