Movie Name/Album Name- वांटेड
Singer(s)- मुहम्मद रफ़ी
Song Lyrics- शकील बदायूंनी
Composer- रवि शंकर शर्मा (रवि)
Director- रवि शंकर शर्मा (रवि)
Music Label- सारेगामा
Starring/Cast – विजय कुमार
Released Date-

वांटेड – हम भी कश कुंवारे होते lyrics

कही माँगनी की बाते है
कही शादी का चर्चा है
मगर अंदर ही अंदर से
हमारा दिल ये कहता है क्या

हम भी कश कुंवारे होते
हम भी कश कुंवारे होते
दुनिया भर में जितने हंसी है
सबकी नज़र में प्यारे होते
हम भी कश कुंवारे होते
हम भी कश कुंवारे होते

हमे भी हुस्न वालो की
हजारो चिठिया आती
कई फोटो भी आते
साथ उनके अर्जिया
कोई लिखता मेरे प्यारे
मुझे तुमसे मोहब्बत है
कोई लिखता मुझे तुम
जैसे सोहर की जरुरत है

कोई लिखता के मेरी
माध भरी आँखे ानशीली है
कोई लिखता के जुल्फे मेरी
पौने तीन गज की है
कोई अफसाना लिखता आशिक़
की पहली मंजिल का
तो कोई भेजता कागज पर
दुनिया भर में जितने हंसी है
सबकी नज़र में प्यारे होते
हम भी कश कुंवारे होते
हम भी कश कुंवारे होते
नक्शा खींच कर दिल का
गरज के

कैसी कैसी बहार आती
कैसे कैसे नज़ारे होते
हम भी कश कुंवारे होते
हम भी कश कुंवारे होते

हुई है जबसे शादी पड़ गए
है हम तो मुश्किल में
आँखे किस से तड़पती है
हज़ारों हसरतें दिल में
मोहब्बत का कोई नगमा
जुबां पर ला नहीं सकते
किसी रंगीन महफ़िल में
अकेले जा नहीं सकते

किसी के हुस्न की तारीफ भी
हम कर नहीं सकते
किसी दिल फेंक शायर की गजल
भी हम पढ़ नहीं सकते
किसी को आँख उठाकर देखना भी
अब कयामत है
खबर हो जाये बीवी को
तो फिर समझो हजामत है

घर में न होती बिवी तो यारो
हम भी कही दिल हारे होते
हम भी कश कुंवारे होते
हम भी कश कुंवारे होते.

Leave a Reply

Your email address will not be published.