ज़िंदा हूँ इस तरह की
ग़म ऐ ज़िन्दगी नहीं
जलता हुआ दिया हूँ
मगर रोशनी नहीं
ज़िंदा हूँ इस तरह की
ग़म ऐ ज़िन्दगी नहीं
जलता हुआ दिया हूँ
मगर रोशनी नहीं

वह मुद्दतें हुयी
हैं किसीसे जुदा हुए
वह मुद्दतें हुयी
हैं किसीसे जुदा हुए
लेकिन ये दिल की आग
अभी तक बुझी नहीं
ज़िंदा हूँ इस तरह की ग़म

आने को आ चुका था
किनारा भी सामने
आने को आ चुका था
किनारा भी सामने
खुद उस के पास ही
मेरी नैय्या गई नहीं
ज़िंदा हूँ इस तरह की ग़म

होंठों के पास आए
हसि क्या माझाल है
होंठों के पास आए
हसि क्या माझाल है
दिल का मुआमला
है कोई दिल्लगी नहीं
ज़िंदा हूँ इस तरह की ग़म

ये चाँद ये हवा ये
फ़िज़ा सब हैं माड मास्ट
ये चाँद ये हवा ये
फ़िज़ा सब हैं माड मास्ट
जब तू नहीं तो इन में
कोई दिलकशी नहीं
ज़िंदा हूँ इस तरह की
ग़म ऐ ज़िन्दगी नहीं
जलता हुआ दिया हूँ
मगर रोशनी नहीं
ज़िंदा हूँ इस तरह की
ग़म ऐ ज़िन्दगी नहीं
जलता हुआ दिया हूँ
मगर रोशनी नहीं
ज़िंदा हूँ इस तरह की
ग़म ऐ ज़िन्दगी नहीं
जलता हुआ दिया हूँ
मगर रोशनी नहीं.

आग – ज़िंदा हूँ इस तरह lyrics

Movie/album- आग
Singers- मुकेश चंद माथुर (मुकेश)
Song Lyrics/Lyricis- बहज़ाद लखनवी
Music Composer- राम गांगुली
Music Director- राम गांगुली
Music Label- शमरू
Movie Cast/Starring- राज कपूर. नरगिस.प्रेमनाथ
Release on- ६थ अगस्त

https://www.youtube.com/watch?v=ro6xp09uEy4
See also  Rehne Do Na Lyrics in Hindi – Guilty | Ankur Tewari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *