Brotherhood Hindi Lyrics- Mankirt Aulakh ft. Singga

Brotherhood Song Detail

Song Title: Brotherhood Lyrics
Singer: Mankirt Aulakh ft. Singga
Lyrics: Singga
Music: MixSingh
Music Label: Saga Music

Brotherhood Lyrics in Hindi

वड्डा शेर दा शिकारी
कदे चीते नियो टक्कदा ओये
(यारां बिन कख दा
यारां नाल लख दा ओये) x 2
हो बंदा बूंदा कुटना
जे बम्ब किते सुटना
खजाना कोई लूटना यार ने

जिद नु पगौना होवे
जित्ते नु हरौना होवे
साले नु डरौना होवे यार ने

हो फिर MP दा पुट वि
मुर्रे अख नियो चकदा ओये

(यारां बिन कख दा
यारां नाल लख दा ओये) x 2

हो दुःख नु वन्दौं वाले
हिक्क नाल लॉन वाले
हक्क जा जातों वाले यार ने

हो दिलां विच रहन
जेह्दे मेहफिलां च बेह्न
तेनु भाबी भाबी कहन वाले यार ने

यार बापू तों चोरी
मंजा मोटर ते रखदा ओये

(यारां बिन कख दा
यारां नाल लख दा ओये) x 2

ओ बकरी बुलेखे विच शेर बन जांदी आ
ते चीते ओहदा करदे शिकार ने

वेल्लियाँ ते रेल्लियाँ दे विच
नाम बोले, नाम बोले वि औना मेरे यार ने

हो वड्डा छोटा चंगा माडा
कदे नियो ठोकेया
ठोकेया जेड़ा कदे चौड नि

मेरेया यारां दे बारे
माडा जेड़ा बोलू
लागु पिबुल्ल मुर्रे ओहदी दौड़ नि

मेरेया यारां दे बारे
पुठा जेह्दा बोलू
लागु पिबुल्ल मुर्रे ओहदी दौड़ नि

लोकसभा तों लेके पिंड दी ग्राउंड तक
सिंग्गे ते तां फैले होए यार ने
यारां दी यारी लई सिंग्गा अंदर गया सी
हुण सुनेया फ्लो होणी बहार ने
सुनेया फ्लो होणी बहार ने

मालपुर दे यारां लई
जाट मारां नु नि अक्कदा ओये
सोनू बट्ट जे यारां लई
जाट मारां नु नि अक्कदा ओये

See also  मरीज़-इ-इश्क़ - ज़िद lyrics

(यारां बिन कख दा
यारां नाल लख दा ओये) x 2

ना ख़ुशी रही ना चाह रहा
ना मंजिल रही ना राह रहा
एह दुनिया भावें लाख वस् ते
टूटेया दिल कितों ना जुड़ेया
मेरे यार एहनी दूर गए
जिथों वापस कोई ना मुड़ेया
जिथों वापस कोई ना मुड़ेया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *