Song : Toxic
Artist : Badshah & Payal Dev
Starring : Sargun Mehta , Ravi Dubey , Badshah & Payal Dev.
Lyrics : Badshah
Composer : Payal Dev
Music Production : Aditya Dev
Mix & Master : Aditya Dev
Directed By : Ravi Dubey
Video Edit : Jagjeet Singh Dhanoa
Camera : Danny Alagh ( Ravi & Sargun) , Aditya Dev ( Payal Dev) & Karana (Badshah)
Creatives : Viggfx
Label : Sony Music India

Toxic Song Lyrics In Hindi

जब तू नहीं था यहाँ तो गम नहीं था
आदत तेरी लगने तक सब कुछ सही था
आया तू ज़िन्दगी में बन के सितम सा
हाँ एक सितम सा

इक तेरे प्यार ने ऐसे दिए ज़ख्म
ना ही तो जी सके, ना ही मरे हैं हम
इक तेरे प्यार ने ऐसे दिए ज़ख्म
ना ही तो जी सके, ना ही मरे हैं हम
इक तेरे प्यार ने

जिस दिन पहली बार देखा तुझको
कोसु us दिन को मैं
क्यूँ लड़ते हो
इसका जवाब डू क्यूँ तुमको मैं
आँखें चेहरे में धस गयी है
कोई रौनक नहीं
मिलता हूँ जिन जिनको मैं
छोटी छोटी बात पे लड़ने का मन करे
जिससे भी मिलु मैं झगड़ने का मन करे
रहती एक Anxiety सी
24 घंटे मरने का मन करे
क्यूँ है इतनी गन्दगी
ना तुझको पता ना मुझको पता
कुछ तो बचा है क्या तेरे मेरे बीच में
तू यह मुझको बता

मैं तुझसे प्यार करना चाहता हूँ
पर और नहीं हो पा रहा
आँखें सूख गयी हैं मेरी
और नहीं रो पा रहा
चाहता हूँ के आंसू आयें
आने बंद हो गए है
तुझको जाते थे जो रस्ते
सारे बंद हो गए है

See also  Teri Hogaiyaan 2 Hindi Lyrics – Broken But Beautiful

लड़ना भी मैं चाहता हूँ
खा के कहता हूँ कसम
इस बहाने अपने में
कुछ तो रहेगा कम से कम
तू भी मुझको गाली दे
मुझपे चिल्लाये, मुझपे चीखे तू
लड़ के घर से बाहर जाए
मैं औन तेरे पीछे
Whatsapp पे मुझको और मेरी फॅमिली को ब्लाक कर
मुझे गन्दी गन्दी बातें बोल
खुद को रूम में लॉक कर
मैं खडखड़ाता रहूँ दरवाजा
और तू खोले ना

मैं खोलने को बोलता रहूँ
और तू कुछ बोले ना
तूने यह किया तो मैं ये कर लूँगा हम चिल्लाये
दोनों को इक दूजे की फिर गलतियाँ हम गिनवाए

थक कर फिर रोते रोते रोते दोनों सो जायें
क्यूँ ना हम इक दूजे से फिर अनजाने हो जाए
छोटी छोटी बातें अब अन्दर से खाने लगी है
जान मेरी अब मेरे अन्दर से जाने लगी है
दोनों में Negativity हर दिन आने लगी है

पहले प्यार आया करता था
अब घिन आने लगी है
पहले प्यार आया करता था
अब घिन आने लगी है
पहले प्यार आया करता था
अब घिन आने लगी है

इक तेरे प्यार ने ऐसे दिए ज़ख्म
ना ही तो जी सके, ना ही मरे हैं हम
इक तेरे प्यार ने ऐसे दिए ज़ख्म
ना ही तो जी सके, ना ही मरे हैं हम
इक तेरे प्यार ने

हमी ने बनाया जो
जो हमी से बिखर गया
आओ नई ईंटो से
वही आशियाना बनाये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *