Punya Paap Lyrics in Hindi पुण्य पाप – Divine

Song DETAILS :

Song Title: Punya Paap
Singer: Divine
Music: iLL Wayno
Lyrics: Divine

FULL LYRICS :

जबसे पैदा तब से किया हुँने
जबसे पैदा तब से किया हुँने
जबसे पैदा तब से किया हुँने
नबसे पैदा तब से किया हुँने

जबसे पैदा तब से किया हुँने पुण्य पाप
जितना मिला दुगना दिया किया पुण्य पाप
खून पसीना चौड़ा सीना करना पुण्य आज
हम ना डरते पाप करके सीखे पुण्य

पुण्य पाप पुण्य पाप
कौन है ख़ास कौन है साथ
काले बादल कला बारिश
क्या है धर्म क्या है जात
कौन बनाया किसका हाथ
सरफिरा यह सरफ़रोश सर्वनाश
किसको चुनता देश का लाभ या खुदका स्वार्थ

मानवता पर कर प्रकाश
नही समझता मुझको धर्म जात
तू डॅडी पे था मैं मॅजी पे था
तू स्किनी में है मैं बॅगी में था
यह रॅप और हिप-होप मेरा प्लॅनिंग नई था
मैं पैसे कमाने के प्लानिंग में था

गंदा या सॉफ माँगता अनाज
जब दूध नही घर पे
तब कुच्छ नही आता है याद
क्या है पुण्य और क्या है पाप

जबसे पैदा तब से किया हुँने पुण्य पाप
जितना मिला दुगना दिया किया पुण्य पाप
खून पसीना चौड़ा सीना करना पुण्य आज
हम ना डरते पाप करके सीखे पुण्य

पुण्य पाप पुण्य पाप
कल है पुण्य आज है पाप
काले कपड़े काली रात
कौन है साथ लंबी खाट
गाड़ी चलती घूमते हाथ
मेहनत ज़्यादा लक दे साथ
डील जब करते पत्ते ख़ास
सफर करते बनते लाश
गिरने का मेरा है इंतेज़ार

रहेंगे ज़िंदाबाद जब तक इंटेकल
अनलीश्ड यह शेर मेरे दाँत पे रक्त हैं
जलन है बीमारी जो यह साथ में रखते हैं
इसलिए कोविद से पहले हम फ़ासले रकते हैं
बेईमानी की वजह बदलते तख्त हैं
च्छपरी है तू तेरे गाने सस्ते हैं
जो लड़ नही सकते वो गाली बकते हैं
मोसेस बनजते जब पानी सर पे है
जाली को मानते यहाँ अंध भक्त हैं

See also  ख़ाब Khaab Lyrics in Hindi – Anshul Seth

हन भगवान में विश्वास इंसान धोकेबाज़
एक नंबर रहेंगे जब तक बनते नही लाश
डिवाइन मेरा स्पिरिट हम बनते नही लाश
हम तख्त पे बैठे तू करते रह नाच
तेरे गिनती के दिन हैं हिसाब में ले साँस
हम ओ ग जियेंगे

जबसे पैदा तब से किया हुँने पुण्य पाप
जितना मिला दुगना दिया किया पुण्य पाप
खून पसीना चौड़ा सीना करना पुण्य आज
हम ना डरते पाप करके सीखे पुण्य

जी ले बेटा तेरी आनी वाली मौत
जितना कर ले तू पुण्य या पाप
बंद पिंजरे से उद्दे हम आज़ाद
खुद परोसने पे आता मुझे स्वाद
दूसरी आल्बम नही मेरी दूसरी यह किताब
हम बिल्ले यह बिल्ली सिर्फ़ रास्ते दे काट
सिर्फ़ डरते हम भगवान से
करते पुण्य और पाप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *