मेरे बाबा तेरी रहमत तो दिन रात बरसती रहती है भजन लिरिक्स

Song: Mere Baba Teri Rehmat
Singer & Writer: : Sunil Kumar Sharma ( Faridabad ) Mob. 09958732209)
Music & Recording : Shri Bhim Sen Arora ( Rai) 9891382934
Category: HIndi Devotional ( Shyam Bhajan)
Producers: Amresh Bahadur, Ramit Mathur
Label: Yuki

मेरे बाबा तेरी रहमत तो,
दिन रात बरसती रहती है,
पर ना जाने क्यूँ ये अँखियाँ,
दिन रात तरसती रहती हैं,
ओ मेरे बाबा ओ मेरे बाबा,
बाबा बाबा मेरे बाबा।।

मैं जब भी खाटू आता हूँ,
तुझे खूब निहार के जाता हूँ,
पर घर आने पर क्यूँ बाबा,
मेरी आँखें भीगी रहती हैं।

मेरे बाबा तेरी रहमत तों,
दिन रात बरसती रहती है,
पर ना जाने क्यूँ ये अँखियाँ,
दिन रात तरसती रहती हैं,
ओ मेरे बाबा ओ मेरे बाबा,
बाबा बाबा मेरे बाबा।।

लाखों को तुमने तारा है,
तेरा दास क्यूँ गम का मारा है,
मेरी भी सुनलो बाबा तुम,
ये बात ज़ुबान पर रहती है।

मेरे बाबा तेरी रहमत तों,
दिन रात बरसती रहती है,
पर ना जाने क्यूँ ये अँखियाँ,
दिन रात तरसती रहती हैं,
ओ मेरे बाबा ओ मेरे बाबा,
बाबा बाबा मेरे बाबा।।

इस दास की अर्ज़ी सुन लो ना,
तुम लखदातार कहाते हो,
लाखों की नही दरकार मुझे,
तेरी कृपा की अर्ज़ी रहती है।

मेरे बाबा तेरी रहमत तों,
दिन रात बरसती रहती है,
पर ना जाने क्यूँ ये अँखियाँ,
दिन रात तरसती रहती हैं,
ओ मेरे बाबा ओ मेरे बाबा,
बाबा बाबा मेरे बाबा।।

ग़लती की माफी दे दो ना,
ये दास ‘सुनील’ तो कहता है,
बाबा जग की कोई चीज़ नही,
बस तुझपे नज़र ये रहती है।

मेरे बाबा तेरी रहमत तों,
दिन रात बरसती रहती है,
पर ना जाने क्यूँ ये अँखियाँ,
दिन रात तरसती रहती हैं,
ओ मेरे बाबा ओ मेरे बाबा,
बाबा बाबा मेरे बाबा।।

मेरे बाबा तेरी रहमत तो,
दिन रात बरसती रहती है,
पर ना जाने क्यूँ ये अँखियाँ,
दिन रात तरसती रहती हैं,
ओ मेरे बाबा ओ मेरे बाबा,
बाबा बाबा मेरे बाबा।।

Watch music video bhajan song | मेरे बाबा तेरी रहमत तो दिन रात बरसती रहती है | Shyam Bhajan | Sunil Kumar Sharma | Audio

कृष्ण भजन मेरे बाबा तेरी रहमत तो दिन रात बरसती रहती है भजन लिरिक्स
तर्ज – मेरा दिल भी कितना पागल।

Song Lyrics English :

Mere Baba Teri Rehmat To
Din Raat Barasti Rehti Hai
Par Na Jaane Kyun Ye Ankhiyan
Din Raat Tarasti Rehti Hain
O Mere Baba O Mere Baba
Baba Baba Mere Baba

Main Jab Bhi Khatu Aata Hoon
Tujhe Khoob Nihaar Ke Jata Hoon
Par Ghar Aane Par Kyun Baba
Meri Aankhen Bheegi Rehti Hain
Mere Baba Teri Rehmat To
Din Raat Barasti Rehti Hai
Par Na Jaane Kyun Ye Ankhiyan
Din Raat Tarasti Rehti Hain
O Mere Baba O Mere Baba
Baba Baba Mere Baba

Lakhon Ko Tumne Taara Hai
Tera Daas Kyun Gham Ka Maara Hai
Meri Bhi Sunlo Baba Tum
Ye Baat Zuban Par Rehti Hai
Mere Baba Teri Rehmat To
Din Raat Barasti Rehti Hai
Par Na Jaane Kyun Ye Ankhiyan
Din Raat Tarasti Rehti Hain
O Mere Baba O Mere Baba
Baba Baba Mere Baba

Is Daas Ki Arzi Sun Lo Na
Tum Lakhdatar Kahate Ho
Lakhon Ki Nahi Darkar Mujhe
Teri Kripa Ki Arzi Rehti Hai
Mere Baba Teri Rehmat To
Din Raat Barasti Rehti Hai
Par Na Jaane Kyun Ye Ankhiyan
Din Raat Tarasti Rehti Hain
O Mere Baba O Mere Baba
Baba Baba Mere Baba

Galti Ki Maafi De Do Na
Ye Daas Sunil To Kehta Hai
Baba Jag Ki Koi Cheez Nahi
Bas Tujhpe Nazar Ye Rehti Hai
Mere Baba Teri Rehmat To
Din Raat Barasti Rehti Hai
Par Na Jaane Kyun Ye Ankhiyan
Din Raat Tarasti Rehti Hain
O Mere Baba O Mere Baba
Baba Baba Mere Baba

Leave a Comment

Your email address will not be published.