संतोषी माता की आरती भजन लिरिक्स

संतोषी माता की आरती भजन लिरिक्स , santoshi mata ki aarti Bhajan Lyrics संतोषी माता की आरती भजन लिरिक्स जय सन्तोषी माता, मैया जय सन्तोषी माता।अपने सेवक जन की सुख…

Continue Readingसंतोषी माता की आरती भजन लिरिक्स

आरती श्री रामायण जी की हिंदी लिरिक्स भजन लिरिक्स

आरती श्री रामायण जी की हिंदी लिरिक्स भजन लिरिक्स | arati shri ramayan ji ki hindi Lyrics geet ke bol आरती श्री रामायण जी की हिंदी लिरिक्स भजन लिरिक्स आरती…

Continue Readingआरती श्री रामायण जी की हिंदी लिरिक्स भजन लिरिक्स

श्री रामायण विसर्जन वंदना लिखित में | shri Ramayan Visarjan Vandana Likhit Mai

श्री रामायण विसर्जन वंदना लिखित में श्री रामायण विसर्जन वंदना, जय जय राजा राम की,जय लक्ष्मण बलवान।जय कपीस सुग्रीव की,जय अंगद हनुमान।। जय जय कागभुशुण्डि की,जय गिरी उमा महेश।जय ऋषि…

Continue Readingश्री रामायण विसर्जन वंदना लिखित में | shri Ramayan Visarjan Vandana Likhit Mai

शिव आरती – ॐ जय शिव ओंकारा (Shiv Aarti – Om Jai Shiv Omkara)

शिव आरती - ॐ जय शिव ओंकारा (Shiv Aarti - Om Jai Shiv Omkara) ॐ जय शिव ओमकारा (शिव आरती) Shiv Ji Ki AartiArtist: B ViniLabel: Bhajan Shrinkhla ॐ जय…

Continue Readingशिव आरती – ॐ जय शिव ओंकारा (Shiv Aarti – Om Jai Shiv Omkara)

जय शिव ओंकारा आरती लिरिक्स | शिव जी की आरती | Jai Shiv Omkara Aarti Lyrics | Shivji Ki Aarti

जय शिव ओंकारा आरती लिरिक्स | शिव जी की आरती | Jai Shiv Omkara Aarti Lyrics | Shivji Ki Aarti जय शिव ओंकारा, ॐ जय शिव ओंकारा ।ब्रह्मा, विष्णु, सदाशिव,…

Continue Readingजय शिव ओंकारा आरती लिरिक्स | शिव जी की आरती | Jai Shiv Omkara Aarti Lyrics | Shivji Ki Aarti

मंगल की सेवा सुन मेरी देवा काली माता आरती लिरिक्स

आरती संग्रह मंगल की सेवा सुन मेरी देवा काली माता आरती लिरिक्सस्वर – श्री नरेन्द्र चंचल जी। मंगल की सेवा सुन मेरी देवा,हाथ जोड़ तेरे द्वार खड़े,पान सुपारी ध्वजा नारियल,ले…

Continue Readingमंगल की सेवा सुन मेरी देवा काली माता आरती लिरिक्स

सिया रघुवर जी की आरती शुभ आरती कीजे लिरिक्स

आरती संग्रह सिया रघुवर जी की आरती शुभ आरती कीजे लिरिक्स सिया रघुवर जी की आरती,शुभ आरती कीजे।। शीश मुकुट काने कुण्डल सोहे ,राम लखन सिया जानकी,शुभ आरती कीजे।। मोर…

Continue Readingसिया रघुवर जी की आरती शुभ आरती कीजे लिरिक्स

आरती गिरिजा नंदन की गजानन असुर निकंदन की लिरिक्स

आरती संग्रह आरती गिरिजा नंदन की गजानन असुर निकंदन की लिरिक्सतर्ज – आरती कुञ्ज बिहारी की। आरती गिरिजा नंदन की,गजानन असुर निकंदन की।। मुकुट मस्तक पर है न्यारा,हाथ में अंकुश…

Continue Readingआरती गिरिजा नंदन की गजानन असुर निकंदन की लिरिक्स