सुनले सुनले भोले बाबा तेरी कावड़ लाये है भजन लिरिक्स

उमा लहरी भजन सुनले सुनले भोले बाबा तेरी कावड़ लाये है भजन लिरिक्सSinger : Uma Lahariतर्ज – गोरी कब से हुई जवान। सुनले सुनले भोले बाबा,तेरी कावड़ लाये है,कावड़ लाये…

Continue Readingसुनले सुनले भोले बाबा तेरी कावड़ लाये है भजन लिरिक्स

मैं बंजारन दीवानी मैं हो गई पि गई थोड़ी भंग मैं लिरिक्स

उमा लहरी भजन मैं बंजारन दीवानी मैं हो गई पि गई थोड़ी भंग मैं लिरिक्सSinger : Uma Lahariतर्ज – कब आएगा मेरे बंजारे। मैं बंजारन दीवानी मैं हो गई,पि गई…

Continue Readingमैं बंजारन दीवानी मैं हो गई पि गई थोड़ी भंग मैं लिरिक्स

कान्हा नहीं माने रे नहीं माने मचल रहे चंदा को भजन लिरिक्स

कृष्ण भजन कान्हा नहीं माने रे नहीं माने मचल रहे चंदा को भजन लिरिक्सतर्ज – भोला नहीं माने रे। कान्हा नहीं माने रे नहीं माने,मचल रहे चंदा को,समझा रही है…

Continue Readingकान्हा नहीं माने रे नहीं माने मचल रहे चंदा को भजन लिरिक्स

मेरा भरोसा ना हारेगा श्याम भजन लिरिक्स

कृष्ण भजन मेरा भरोसा ना हारेगा श्याम भजन लिरिक्सSinger : Puja Nathaniतर्ज – लिले चढ़ सांवरा आएगा। हारेगा ना हारेगा ना हारेगा,मेरा भरोसा ना हारेगा,हारेगा ना हारेगा ना हारेगा,मेरा भरोसा…

Continue Readingमेरा भरोसा ना हारेगा श्याम भजन लिरिक्स

रंग मत डारे रे साँवरिया राजस्थानी भजन लिरिक्स

राजस्थानी भजन रंग मत डारे रे साँवरिया राजस्थानी भजन लिरिक्स ‍दोहा – मुरली वाले मोहना,तेरी मुरली रेण बजाय,इन मुरली में मारो मन बश्यो,काना एक बारी और बजाय,प्रीत ना कर पंछी…

Continue Readingरंग मत डारे रे साँवरिया राजस्थानी भजन लिरिक्स

हरे घास री रोटी ही जद बन बिलावड़ो ले भाग्यो लिरिक्स

प्रकाश माली भजन हरे घास री रोटी ही जद बन बिलावड़ो ले भाग्यो लिरिक्सस्वर – प्रकाश माली। हरे घास री रोटी ही,जद बन बिलावड़ो ले भाग्यो,नन्हो सो अमर्यो चीख पड्यो,राणा…

Continue Readingहरे घास री रोटी ही जद बन बिलावड़ो ले भाग्यो लिरिक्स

तेरी तुलना किससे करूँ माँ तुमसा और ना कोई भजन लिरिक्स

दुर्गा माँ भजन तेरी तुलना किससे करूँ माँ तुमसा और ना कोई भजन लिरिक्स तेरी तुलना किससे करूँ माँ,तेरी तुलना किससे करूं माँ,तुमसा और ना कोई,जब जब टुटा मेरा खिलौना,मुझसे…

Continue Readingतेरी तुलना किससे करूँ माँ तुमसा और ना कोई भजन लिरिक्स

कहाँ रखोगे बाबा हारो की अंसुवन धार भजन लिरिक्स

कृष्ण भजन कहाँ रखोगे बाबा हारो की अंसुवन धार भजन लिरिक्सSinger : Vishal Goyalतर्ज – सावन का महीना। कहाँ रखोगे बाबा,हारो की अंसुवन धार,तेरा श्याम कुण्ड भी छोटा,पड़ जायेगा सरकार,कहां…

Continue Readingकहाँ रखोगे बाबा हारो की अंसुवन धार भजन लिरिक्स