गाओ गाओ री बधाई उमंग भर के भजन लिरिक्स

गाओ गाओ री बधाई,
उमंग भर के,
उमंग भर के हरस भर के,
गाओ गाओ री बधाईं,
उमंग भर के।।

नेमा भी लाई ये तो,
प्रेमा भी लाई,
लाई लाई भक्ति के भंडार भर के
गाओ गाओ री बधाईं,
उमंग भर के।।

रसिक गुरु ने,
हमे अपनाई,
करा है निहार,
परिकर में बर के,
गाओ गाओ री बधाईं,
उमंग भर के।।

दया दृष्टी के,
है हम भूखे,
है हम दास,
तुम्हारे दर के,
गाओ गाओ री बधाईं,
उमंग भर के।।

भूल मत जाना जी,
बिसर मत जाना,
इतनी तो दया,
अपार करके,
गाओ गाओ री बधाईं,
उमंग भर के।।

राधा चरण कमल,
में बसाना,
इतना तो करना,
कृपा करके,
गाओ गाओ री बधाईं,
उमंग भर के।।

गाओ गाओ री बधाई,
उमंग भर के,
उमंग भर के हरस भर के,
गाओ गाओ री बधाईं,
उमंग भर के।।

Leave a Reply