भर्ती हो जा रे सत्संग में भजन | bharti hoja re satsang mein bhajan lyrics

।। दोहा ।।
सतगुरु मेरी आत्मा ,और में संतन की देह।
रोम रोम में रम रया ,ज्यो बादळ बिच मेग।

भरती वेजा रे सतसंग मै ,
नर थारो भाग खुलेला ।
भाग खुलेला रे थारौ ,
भाग खुलेला रै।
भरती वेजा रे …..

जनम मरण तो आदु ,
मारग मृत्यू वेला रे ।
सुन्दर काया कंचन थारी ,
छोड चलेला रे !!
भरती होजा …..

कर पुरसारत ज्ञान गरीबी ,
गुरूग़म मैला रे।
सतसंग धार हियो मत हारो ,
अरे मौज मिलेला रै !!
भरती होजा …..

अम्रीत सिंदु सुख सागर भरयो ,
प्रेम हिलोला रे !
प्रेम री चुबकी मीरले हंसा ,
मौती चुगेला रे !!!
भरती होजा …..

लिखमी राम माने सतगुरू मिलया ,
ज्ञान विचारो रे।
हरी राम हरी भक्ति करले ,
काज सरेला रै।
भरती होजा …..

प्रकाश माली भजन | prakash mali bhajan video

भर्ती हो जा रे सत्संग में भजन bharti hoja re satsang mein satguru mahima in hindi prakash mali bhajan गुरु जी का भजन
गुरु जी का भजन lyrics in Hindi
भजन :- भरती होजा रे सतसंग मै
गायक :- प्रकाश माली

Leave a Reply