टाबर थारा अरज लगावे श्याम प्रभु अब आजा रे लिरिक्स

टाबर थारा अरज लगावे,श्याम प्रभु अब आजा रे,संकट में है दुनिया सारी,आकर पार लगा जा रे,टाबर थारां अरज लगावे,श्याम प्रभु अब आजा रे।। सुनी गलियां सुने चौबारे,सुनी तेरी अटारी है,तोरण…

Continue Readingटाबर थारा अरज लगावे श्याम प्रभु अब आजा रे लिरिक्स