अंजनी माँ तेरा लाला तो बड़ा मतवाला भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
सुख के सागर राम है ,दुःख के भंजन हार।
राम चरण तजिये नहीं ,भजिये बारम्बार।

अंजनी माँ तेरा
लाला बड़ा मतवाला।
सोने की लंका को पल
भर में ही जला डाला।

जब ये चलता है तो ,
ब्रह्माण्ड सारा हिलता है।
जब उड़ता है तो ,
अम्बर भी काँप उठता है।
कभी ये राम की भक्ति में ,
ऐसा रंग जाय।
राम की धुन में मगन ,
नाचने ये लगता है।
प्रभु श्री राम का ये ,
भक्त है घोटे वाला।
सोने की लंका को पल
भर में ही जला डाला।

इसके हुंकार से दुस्टो
के सीने फट जाये ।
इसके बस नाम से ही ,
सार वीगन हट जाये।
बड़े बलवान है महावीर है ,
बजरंग बाला।
इसके सम्मुख ना कोई ,
दुष्ट ठीक पाये।
इसकी तारीफ क्या करू ,
ये वीर है आला।
सोने की लंका को पल
भर में ही जला डाला।

आया कलयुग में रख के ,
वानरों को मतवाला।
अपने भक्तो की रक्षा ,
करने कोसो दूर आया।
भुत और प्रेत कभी ,
निकट नहीं आते है ।
बड़ा बलवान है वैरागी ,
बजरंग बाला।
जिसने दर्शन किया वो ,
भक्त किस्मत वाला।
सोने की लंका को पल
भर में ही जला डाला।

अंजनी माँ तेरा
लाला बड़ा मतवाला।
सोने की लंका को पल
भर में ही जला डाला।

अंजनी माँ तेरा लाला तो बड़ा मतवाला भजन लिरिक्स anjani maa tera lala to bada matwala bhajan lyrics

Leave a Reply