अगर है शौक मिलने का भजन लिरिक्स

अगर है शौक मिलने का agar hai shauk milne ka, osho siddharth aulia,hindi qawwali bhajan, hindi bhajan with lyrics

अगर है शौक मिलने का भजन लिरिक्स

अगर है शौक मिलने का ,
तो हरदम लौ लगाता जा ।
जलाकर खुद नुमाई को ,
भस्म तन पर लगाता जा ॥

पकड़कर इश्क का झाडू ,
सफा कर हिजर – ए – दिल को ।
दुई की धूल को लेकर ,
मुसल्लाह पर उड़ाता जा ।।
अगर है शौक ।
..

मुसहल्ल फाड़ तसबी तोड़ ,
किताबें डाल पानी में ।
पकड़ तू दस्त फिरस्तों का ,
गुलाम उनका कहाता जा ॥
अगर है शौक ।
..

न मर भूखा न रख रोजा ,
न जा मस्जिद न कर सजदा ।
वजू का तोड़ दे कुंजा ,
शराब – ए – शौक पीता जा ।
अगर है शौक ।
..

हमेशा खा हमेशा पी ,
न गफलत से रहो इक दम ।
नशे में सैर कर अपनी ,
खुद ही को तू जलाता जा ॥
अगर है शौक ।
..

नहीं मुल्ला नहीं ब्राह्मण ,
दुई की छोड़ कर पूजा ।
हुक्म है शाह कलन्दर का ,
अनल – हक तू कहाता जा ।।
अगर है शौक ।
..

See This Lyrics also:   चाहे तार जोगिया, चाहे मार जोगिया, Bhajan Lyrics

हे मंसूर मस्ताना ,
मैंने हक दिल में पहचाना ।
वहीं मस्तों का मैखाना ,
उसी के बीच आता जा ।
अगर है शौक ।
..

hindi qawwali bhajan lyrics in English

agar hai shauk milne ka BHAJAN LYRICS

agar hai shauk milane ka ,
to haradam lau lagaata ja .
jalaakar khud numaee ko ,
bhasm tan par lagaata ja .

pakadakar ishk ka jhaadoo ,
sapha kar hijar – e – dil ko .
duee kee dhool ko lekar ,
musallaah par udaata ja ..
agar hai shauk .
..

musahall phaad tasabee tod ,
kitaaben daal paanee mein .
pakad too dast phiraston ka ,
gulaam unaka kahaata ja .
agar hai shauk .
..

na mar bhookha na rakh roja ,
na ja masjid na kar sajada .
vajoo ka tod de kunja ,
sharaab – e – shauk peeta ja .
agar hai shauk .
..

hamesha kha hamesha pee ,
na gaphalat se raho ik dam .
nashe mein sair kar apanee ,
khud hee ko too jalaata ja .
agar hai shauk .
..

nahin mulla nahin braahman ,
duee kee chhod kar pooja .
hukm hai shaah kalandar ka ,
anal – hak too kahaata ja ..
agar hai shauk .
..

See This Lyrics also:   ज्योत जली तेरी तुझे आना पड़ेगा, भजन लिरिक्स | Bhajan Lyrics

kahe mansoor mastaana ,
mainne hak dil mein pahachaana .
vaheen maston ka maikhaana ,
usee ke beech aata ja .
agar hai shauk .
..

hindi bhajan with lyrics In Hindi

अगर है शौक मिलने का भजन लिरिक्स

अगर है शौक मिलने का , तो हरदम लौ लगाता जा ।
जलाकर खुद नुमाई को , भस्म तन पर लगाता जा ॥

See This Lyrics also:   कालो की काल महाकाली भवानी माई कलकत्ता वाली भजन लिरिक्स

पकड़कर इश्क का झाडू , सफा कर हिजर – ए – दिल को ।
दुई की धूल को लेकर , मुसल्लाह पर उड़ाता जा ।।
अगर है शौक ।
..

मुसहल्ल फाड़ तसबी तोड़ , किताबें डाल पानी में ।
पकड़ तू दस्त फिरस्तों का , गुलाम उनका कहाता जा ॥
अगर है शौक ।
..

न मर भूखा न रख रोजा , न जा मस्जिद न कर सजदा ।
वजू का तोड़ दे कुंजा , शराब – ए – शौक पीता जा ।
अगर है शौक ।
..

हमेशा खा हमेशा पी , न गफलत से रहो इक दम ।
नशे में सैर कर अपनी , खुद ही को तू जलाता जा ॥
अगर है शौक ।
..

नहीं मुल्ला नहीं ब्राह्मण , दुई की छोड़ कर पूजा ।
हुक्म है शाह कलन्दर का , अनल – हक तू कहाता जा।।
अगर है शौक ।
..

कहे मंसूर मस्ताना , मैंने हक दिल में पहचाना ।
वहीं मस्तों का मैखाना , उसी के बीच आता जा ।
अगर है शौक ।
..

osho siddharth aulia Bhajan Video

भजन/Bhajan Title = अगर है शौक मिलने का
गायक/Singer = = ओशो सिद्धार्थ औलिया
Bhajan Text- भजन

Leave a Comment