उस प्रभु की है कृपा बड़ी भजन लिरिक्स

उस प्रभु की है कृपा बड़ी ,
याद कर ले घड़ी दो घड़ी ।
घण्टी बज जाय कब कूच की ,
मौत हरदम सिरहाने खड़ी ॥

किन्हीं शुभ कर्मों का फल है यह ,
तुझे मानव का चोला मिला ,
जो आया है जायेगा वह ,
बन्द होगा न यह सिलसिला ।
ग्रन्थों की कहती इक – इक कड़ी ,
याद कर ले घड़ी दो घड़ी ॥
उस प्रभु की ….

जो करना हे ले आज कर ,
कुछ खबर प्यारे कल की नहीं ।
मानव जीवन को कर ले सफल ,
ढील दे इसमें पल की नहीं ।
टूट श्वासों की जाय कब लड़ी ,
याद कर ले घड़ी दो घड़ी ।
उस प्रभु की ….

इस जवानी पे इतरा न तू ,
बातों बातों में मुक जायेगी ।
उभरा सीना सिकुड़ जायेगा ,
और कमर भी यह झुक जायेगी ।
टेक कर के चलेगा छड़ी ,
याद कर ले घड़ी दो घड़ी ।
उस प्रभु की ….

shri hari ji maharaj ke bhajan video

उस प्रभु की है कृपा बड़ी, us prabhu ki hai kripa badi lyrics, shri hari ji maharaj ke bhajan, bhajan hindi lyrics, हिंदी भजन लिखे हुए
भजन :- उस प्रभु की है कृपा बड़ी
गायक :- श्री हरी जी महाराज

Leave a Reply