चिट्ठी ना कोई संदेश न जाने कौन सा वह देश भजन लिरिक्स

चिट्ठी ना कोई संदेश ,
जाने वो कौनसा देश ,
जहाँ तुम चले गये ,
जहाँ तुम चले गये ।

इस दिल पे लगा के ठेस ,
जाने वो कौनसा देश ,
जहाँ तुम चले गए ,
जहाँ तुमचले गए ।

एक आह भरी होगी ,
हमने न सुनी होगी ,
जाते – जाते तुमने ,
आवाज तो दी होगी ।
हर वक्त यही है गम ,
उस वक्त कहाँ थे हम ,
कहाँ तुम चले गये ,
कहाँ तुम चले गये ॥

हर चीज पे अश्कों से ,
लिखा था तुम्हारा नाम ,
ये रस्ते घर गलियाँ ,
तुम्हें कर ना सके सलाम ।
हाय दिल में रह गई बात ,
जल्दी से छुड़ा कर हाथ ,
कहाँ तुम चले गये ,
कहाँ तुम चले गये ।

अब यादों के काँटे ,
दिल में चुभते है ,
ना दर्द ठहरता है ,
ना आँसू रुकते है ।
तुम्हें ढूँढ रहा है प्यार ,
हम कैसे करें इकरार ,
कहाँ तुम चले गये ,
कहाँ तुम चले गये । .

jagjit singh song lyrics Video

चिट्ठी न कोई संदेश chitthi na koi sandesh, jane woh konsa desh jaha tum chale gaye, jagjit singh song lyrics, hindi song with lyrics
भजन :- चिट्ठी न कोई संदेश
गायक :- जगजीत सिंह

Leave a Reply