बीड़ो उठायो हनुमान हठीलो भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
हनुमत तेरी धाक से , धूजे लंका कोट ।
तुम पायक श्रीराम के , थारे पेरण लाल लंगोट ।

बीड़ो उठायो हनुमान हठीलो ,
बीड़ो उठायो राजा राम रो ।
आज भलां अंजनी रो जायो ,
बीड़ो उठायो राजाराम रो ॥

पाँच पानां रो बीडो रे बणायो ,
भरी सभा में फेरियो जी ।
उण बिड़ला ने कोई नहीं झेल्यो ,
हनुमत हाथ उठायो जी ॥
बीड़ो उठायो । …..

बीडो उठायो मुख में दबायो ,
चरणां शीश निवायो जी ।
कर किलकारी कूद गयो सागर ,
पिणघट आसन लगायो जी ॥
बीड़ो उठायो । …..

पाणी री पणिहा – बोली ,
कौण जिनावर आयो जी ।
जिण देश री सीता कहिजे ,
उण देश रो वानर आयो जी ॥
बीड़ो उठायो । …..

इतरी बात सुणी हनुमत ने ,
नवल बाग में आयो जी ।
जिणवृक्ष नीचे सीता बैठी ,
ला मुंदड़ी छिटकायो जी ॥
बीड़ो उठायो । …..

देख मुंदड़ी झुरवा ने लागी ,
कौण जिनावर आयो जी ।
तुलसीदासआस रघुवर की ,
नैणां नीर भर आयो जी ॥
बीड़ो उठायो । …..

बीड़ो उठायो हनुमान हठीलो, bido uthayo hanuman hathile, sunita swami bhajan, hanuman ji bhajan lyrics, marwadi desi bhajan

Leave a Reply