लेके गौरा जी को साथ भोले-भाले भोले नाथ भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
नीलकंठ के शीश पर, बहे निरंतर गंग ।
ऐसे प्रभु को देखकर ,मन में उठे उमंग ।

लेके गोरा जी को साथ ,
भोले-भाले भोले नाथ।
काशी नगरी से आए ,
हैं शिव शंकर

नंदी पे सवार होके ,
डमरू बजाते।
चले आ रहे हैं भोले ,
हरी गुण गाते।
पहेने नरमुंडो की माला ,
ओढ़े तन पर मृग छाला।
काशी नगरी से आए ,
हैं शिव शंकर।
लेके गोरा जी को साथ

हाथ में त्रिशूल लिए ,
भसमी रमाये।
झोली गले में डाले ,
गोकुल में आये।
पहुचे नंद बाबा के द्वार ,
अलख जगाएँ बारम्बार।
काशी नगरी से आए ,
हैं शिव शंकर।
लेके गोरा जी को साथ

कहाँ है यशोदा तेरा ,
कृष्ण कन्हैया
दरश करादे रानी ,
ले लू बलैया।
सुनके नारायण अवतार ,
आया हू मैं तेरे द्वार।
काशी नगरी से आए ,
हैं शिव शंकर।
लेके गोरा जी को साथ

देखके यशोदा बोली ,
जाओ- बाबा जाओ।
द्वार हमारे तुम ना ,
डमरू बजाओ।
डर जायेगा मेरा लाल ,
जो देखेगा सर्प माल।
काशी नगरी से आए ,
हैं शिव शंकर।
लेके गोरा जी को साथ

हँस के वो जोगी बोला ,
सुनो महारानी।
दरश करादे मुझे ,
होगी मेहेरबानी।
दरस करादे एक बार ,
देखु कैसा है सुकुमार।
काशी नगरी से आए ,
हैं शिव शंकर।
लेके गोरा जी को साथ

सोया है कन्हैया मेरा ,
मैं ना जगाऊं।
तेरी बातो में बाबा ,
हरगिज़ ना आऊँ।
मेरा नन्हा सा गोपाल ,
तू कोई जादू देगा डाल।
काशी नगरी से आए ,
हैं शिव शंकर।
लेके गोरा जी को साथ

इतनी सुनके भोला ,
हँसे खिलखिला के।
बोला यशोदा से ,
डमरू बजाके।
देखो जाकर अपना लाल ,
आने को वो है बहाल।
काशी नगरी से आए ,
हैं शिव शंकर।
लेके गोरा जी को साथ

इतने में आए मोहन ,
मुरली बजाते।
ब्रह्मा इंद्राणी जिसका ,
पार ना पाते।
यहाँ गोकुल में ग्वाल ,
घर- घर नाच रहा गोपाल।
काशी नगरी से आए ,
हैं शिव शंकर।
लेके गोरा जी को साथ।

shiv ji bhajan lyrics video

लेके गौरा जी को साथ भोले-भाले भोले नाथ, leke goraji ko sath shiv ji bhajan lyrics in hindi
लेके गौरा जी को साथ भोले-भाले भोले नाथ भजन लिरिक्स भोलेनाथ के भजन लिरिक्स
भजन :- लेके गौरा जी को साथ
गायिका :- मोनिका अग्रवाल

Leave a Reply