बालाजी तेरे चरणों में एक दुखिया नारी आयी है भजन लिरिक्स

बालाजी तेरे चरणों में एक दुखिया नारी आयी है,
चरणों में ध्यान लगाकर के दुःख अपना सुनाने आयी है ,
बालाजी तेरे चरणों में एक दुखिया बेटी आयी है,
चरणों में ध्यान लगाकर के दुःख अपना सुनाने आयी है।।

इस झूठे जग में हे बाबा मुझे सच्चा तेरा यह धाम लगा,
श्रद्धा के भाव चढ़ा कर के ये नारी मानाने आयी है,
चरणों में ध्यान लगाकर के दुःख अपना सुनाने आयी है।।

मैं तीन पहर तुम्हे बालाजी इस सूने मन में बुलाती हूँ,
मेरे मन में है अंधकार भरा बेटी इसको मिटने आयी है,
मेरे मन में है अंधकार भरा नारी इसको मिटने आयी है,
चरणों में ध्यान लगाकर के दुःख अपना सुनाने आयी है।।

बालाजी तेरे चरणों में एक दुखिया नारी आयी है,
चरणों में ध्यान लगाकर के दुःख अपना सुनाने आयी है,
बालाजी तेरे चरणों में एक दुखिया बेटी आयी है,
चरणों में ध्यान लगाकर के दुःख अपना सुनाने आयी है।।

Leave a Comment