रंग मत डारे रे साँवरिया राजस्थानी भजन लिरिक्स

राजस्थानी भजन रंग मत डारे रे साँवरिया राजस्थानी भजन लिरिक्स ‍दोहा – मुरली वाले मोहना,तेरी मुरली रेण बजाय,इन मुरली में मारो मन बश्यो,काना एक बारी और बजाय,प्रीत ना कर पंछी…

Continue Readingरंग मत डारे रे साँवरिया राजस्थानी भजन लिरिक्स

हरे घास री रोटी ही जद बन बिलावड़ो ले भाग्यो लिरिक्स

प्रकाश माली भजन हरे घास री रोटी ही जद बन बिलावड़ो ले भाग्यो लिरिक्सस्वर – प्रकाश माली। हरे घास री रोटी ही,जद बन बिलावड़ो ले भाग्यो,नन्हो सो अमर्यो चीख पड्यो,राणा…

Continue Readingहरे घास री रोटी ही जद बन बिलावड़ो ले भाग्यो लिरिक्स

ओ बेटा शरवण पाणीड़ो पिलाय वन में बेटा प्यास लगी

प्रकाश माली भजन ओ बेटा शरवण पाणीड़ो पिलाय वन में बेटा प्यास लगीगायक – श्री प्रकाश माली। ओ बेटा शरवण पाणीड़ो पिलाय,वन में बेटा प्यास लगी। दोहा – बेटा तो…

Continue Readingओ बेटा शरवण पाणीड़ो पिलाय वन में बेटा प्यास लगी
bhajan
bhajan

पहला थारी ममता ने मारो पछे मोयला ने मारो

प्रकाश माली भजन पहला थारी ममता ने मारो पछे मोयला ने मारोSinger : Prakash Mali पहला थारी ममता ने मारो,पछे मोयला ने मारो कुँआ पर,आसन जोगी वालो।। पानी किस विध…

Continue Readingपहला थारी ममता ने मारो पछे मोयला ने मारो

सतगुरु जी ने मिलवा हालो रे सजलो ने सिंगार

राजस्थानी भजन सतगुरु जी ने मिलवा हालो रे सजलो ने सिंगारSinger : Jogbharti Ji सतगुरु जी ने मिलवा हालो रे,सजलो ने सिंगार,सजलो ने सिंगार,सुरता सजलो ने सिंगार रे,सतगुरु जी ने…

Continue Readingसतगुरु जी ने मिलवा हालो रे सजलो ने सिंगार

खम्मा खम्मा ओ धनिया रुणिचे रा धनिया भजन लिरिक्स

राजस्थानी भजन खम्मा खम्मा ओ धनिया रुणिचे रा धनिया भजन लिरिक्सSinger: Satish Dehra खम्मा खम्मा ओ धनिया,रुणिचे रा धनिया,थाने तो ध्यावे आखो मारवाड़ हो,आखो गुजरात हो,अजमालजी रा कंवरा,खम्मा खम्मा ओ…

Continue Readingखम्मा खम्मा ओ धनिया रुणिचे रा धनिया भजन लिरिक्स

आनंद मेरे गणपति देव पधारो मारवाड़ी गणपति वंदना

राजस्थानी भजन आनंद मेरे गणपति देव पधारो मारवाड़ी गणपति वंदनागायक– चम्पा लाल प्रजापति। भूल्या ने राय समझ तुम देवो,ह्रदय करो उजियारो,आनंद मेरे गणपति देव पधारो,आनंद मेरे गणपति देव पधारों।। गणपति…

Continue Readingआनंद मेरे गणपति देव पधारो मारवाड़ी गणपति वंदना

पैदल पैदल बाबा मैं तो थां सूं मिलवा आया रामदेवजी भजन

राजस्थानी भजन पैदल पैदल बाबा मैं तो थां सूं मिलवा आया रामदेवजी भजनगायक -- प्रकाश परिहार। पैदल पैदल बाबा मैं तो,थां सूं मिलवा आया,क्यू म्हारा सांवरिया,दर पे दरवाजा लगवाया,मैं तो…

Continue Readingपैदल पैदल बाबा मैं तो थां सूं मिलवा आया रामदेवजी भजन