गुरु-समान-नहीं-दाता-जग-में

गुरु समान नहीं दाता जग में भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
गुरु बिणजारा ज्ञान रा ,और लाया वस्तु अमोल।
सौदागर साँचा मिले , वे ले सिर साठे तोल।

~ गुरु समान नहीं दाता ~

सार सबद सतगुरु जी रा मानो ,
सुन में जाय समाता रे।
जुग माहि गुरु समान नहीं दाता।

वस्तु अमोलक दी मारा सतगुरु ,
भली सुनाई बाता।
काम क्रोध ने कैद कर राखो ,
मार लोभ ने लाता।
जुग माहि गुरु समान नहीं दाता। टेर

काल करे सो आज करले ,
फिर दिन आवे नहीं हाथा।
चौरासी में जाय पड़ेला ,
भोगेला दिन राता।
जुग माहि गुरु समान नहीं दाता। टेर।

सबद पुकारि पुकारि केवे है ,
कर संतन का साथा।
सेवा वंदना कर सतगुरु री ,
काल नमावे माथा।
जुग माहि गुरु समान नहीं दाता। टेर।

कहत कबीर सुनो धार्मिदासा ,
मान वचन हम कहता।
परदा खोल मिलो सतगुरु से ,
चलो हमारे साथा।
जुग माहि गुरु समान नहीं दाता। टेर।

सार सबद सतगुरु जी रा मानो ,
सुन में जाय समाता रे।
जुग माहि गुरु समान नहीं दाता।

See This Lyrics also:   मारवाड़ी-भजन-लिखित-में

guru saman nahi data satguru ke bhajan in hindi lyrics

sar sabad satguru ji ra mano,
sun me jaay samata re.
jug mahi guru saman nhi data .

vastu amolak di mara satguru,
bhali sunai bata.
kam krodh ne ked kar rakho,
mar lobh ne lata.
jug mahi guru saman nhi data .

kaal kare so aaj karle,
fir din aave nhi hatha.
chourasi me jay padela,
bhogela din rata.
jug mahi guru saman nhi data .

sabad pukari pukari keve hai,
kar santan ka satha.
seva vandna kar satguru ri,
kaal namave matha.
jug mahi guru saman nhi data .

kahat kabir suno dharmidasa,
maan vachan ham kahata.
parda khol milo satguru se,
chalo hamare satha.
jug mahi guru saman nhi data .

sar sabad satguru ji ra mano,
sun me jaay samata re.
jug mahi guru saman nhi data .

सतगुरु भजन लिरिक्स इन हिंदी

भजन :- जग माहि गुरु समान नहीं दाता
गायक :- सुरेश लोहार

See This Lyrics also:   जय भगवति देवि नमो वरदे लिरिक्स, Jai Bhagwati Devi Namo Varde Lyrics, Shri Bhagwati Stotram

suresh lohar bhajan video- राजस्थानी भजन

Leave a Comment