गोरा रानी ने जपि ऐसी माला भजन लिरिक्स

। दोहा ।।
नीकंठ के ीश पर, बहे निरंतर गंग ।
ऐसे प्रभु को देखकर ,मन में उठे उमंग ।

गौरा रानी ने जपी ऐसी माला ,
मिला है देखो डमरू वाला।
मिला है जोगी मतवाला ,
गौरा रानी ने जपी ऐसी माला।

गोरा से भोले शम्भू काहे पुकारा ,
गोरा जी बोली चाहु साथ तुम्हारा।
तुम जैसा नाथ नहीं कोई निराला।
गौरा रानी ने जपी ऐसी माला ,
मिला है देखो डमरू वाला।

महलो की रानी तू है मैं हु इक जोगी,
मेरे संग गोरा तुम कैसे रहोगी।
शमशान पर्वत पे मैं रहने वाला।
गौरा रानी ने जपी ऐसी माला ,
मिला है देखो डमरू वाला।

यहाँ रहोगे भोले मैं भी रहूंगी,
दासी तुम्हारी बन के सेवा करुँगी।
गोरा ने शिव जी को डाली वर माला।
गौरा रानी ने जपी ऐसी माला ,
मिला है देखो डमरू वाला।

गोरा के हिर्दय में शिव जी बसे है,
जन्मो के बंधन में दोनों बंधे है।
वैरागी दोनों ने जग को संभाला।
गौरा रानी ने जपी ऐसी माला ,
मिला है देखो डमरू वाला।

bholenath ke bhajan lyrics music bhajan video song

गोरा रानी ने जपि ऐसी माला gora rani ne japi aisi mala bhajan lyrics shiv parvati bhajan lyrics in hindi
शिव पार्वती भजन लिरिक्स
भजन :- गौरा रानी ने जपि ऐसी माला
गायिका :- कनिष्का

Leave a Reply