जोगीड़ा ने जादू कीनो रे म्हारो तन मन बांधे लीनो भजन लिरिक्स

।। दोहा ।।
के तो आ जा सांवरा, नहीं तो लिख भेज सन्देश।
नैणा में आंसू पड़े, ज्यू सावण बरसे मेघ।

जोगीड़ा ने जादू कीनो रे ,
म्हारो तन मन बांधे लीनो रे।

अन पाणी मने कछु ना भावे ,
पल पल छीन छीन याद सतावे।
दुनिया तो लागे म्हाने खारी रे ,
म्हारो हिरदो प्रेम सु भीनो रे।
जोगीड़ा ने जादू कीनो रे ,
म्हारो तन मन बांधे लीनो रे। टेर।

विरह री अगनि तन बिच लागी ,
भेदभाव री भरमना भागी।
म्हारे चढ़गी प्रेम खुमारी रे ,
में तो प्यालो प्रेम को पिनो रे।
जोगीड़ा ने जादू कीनो रे ,
म्हारो तन मन बांधे लीनो रे। टेर।

रैण दिवस म्हाने नींद नी आवे ,
घायल मृग ज्यू विरह सतावे।
म्हारे शबद कटारी मारी रे ,
म्हारो पिंजर घायल कीनो रे।
जोगीड़ा ने जादू कीनो रे ,
म्हारो तन मन बांधे लीनो रे। टेर।

मोर मुकुट अर गल बिच माला ,
म्हाने तो मिल गया नंदजी रा लाला।
बाई सुआ ने तारी रे ,
ज्यां रो जनम सफल कर दीनों रे।
जोगीड़ा ने जादू कीनो रे ,
म्हारो तन मन बांधे लीनो रे। टेर।

gajendra rao ke bhajan

जोगीड़ा ने जादू कीनो रे म्हारो तन मन बांधे लीनो भजन लिरिक्स Jogida Ne Jadu Kino Re shri krishna bhajan lyrics in hindi
कृष्ण कन्हैया के भजन लिरिक्स
भजन :- जोगीड़े ने जादू कीनो रे
गायक :- गजेंद्र राव

Leave a Reply