तेरे मन में राम तन में राम रोम रोम में राम रे भजन लिरिक्स

तेरे मन में राम तन में राम रोम रोम में राम रे भजन लिरिक्स
, tere man me ram tan me ram shri ram bhajan hindi lyrics

तेरे मन में राम तन में राम

तेरे मन में राम तन में राम ,
रोम रोम में राम है।
राम सुमिर ले ध्यान लगा ले ,
छोड़ जगत के काम रे।
बोलो राम बोलो राम ,
बोलो राम राम राम।

माया में तू उलझा उलझा ,
दर दर धूल उड़ाए।
अब करता क्यों मन भारी ,
जब माया साथ छुड़ाए।
दिन तो बीता दौड़ धुप में ,
ढल जाए ना शाम रे।
बोलो राम बोलो राम ,
बोलो राम राम राम।
तेरे मन में राम तन में राम ,
रोम रोम में राम है। टेर

तन के भीतर पांच लुटेरे ,
डाल रहे है डेरा।
काम क्रोध मद लोभ मोह ने ,
तुझको ऐसा घेरा।
भूल गया तू राम रटना ,
भुला पूजा का काम रे।
बोलो राम बोलो राम ,
बोलो राम राम राम।
तेरे मन में राम तन में राम ,
रोम रोम में राम है। टेर।

बचपन बीता खेल खेल में ,
भरी जवानी सोया।
देख बुढ़ापा सोचे अब तू ,
क्या पाया क्या खोया।
देर नहीं है अब भी बन्दे ,
ले ले हरि का नाम रे।
बोलो राम बोलो राम ,
बोलो राम राम राम।
तेरे मन में राम तन में राम ,
रोम रोम में राम है। टेर।

See This Lyrics also:   रास कुंजन में ठहरायो भजन लिरिक्स, Raas Kunjan Mein Thehrayo Bhajan Lyrics

shri ram bhajan hindi lyrics

tere man me ram

tere man me ram tan me ram,
rom rom me ram hai.
ram sumir le dhyan laga le,
chhod jagat ke kaam re.
bolo ram bolo ram,
bolo ram ram ram.

maya me tu ulajha ulajha,
dar dar dhul uday.
ab karta kyu man bhari,
jab maya sath chhuday.
din to beeta dodh dhup me,
dhal jay naa sham re.
bolo ram bolo ram,
bolo ram ram ram.
tere man me ram tan me ram,
rom rom me ram hai.

tan ke bhitar panch lutere,
dal rahe hai dera.
kam krodh mad lobh moh ne,
tujhko aisa ghera.
bhul gaya tu ram ratna,
bhula puja ka kaam re.
bolo ram bolo ram,
bolo ram ram ram.
tere man me ram tan me ram,
rom rom me ram hai.

bachpan beeta khel khel me,
bhari javani soya.
dekh budhapa soche ab tu,
kya paya kya khoya.
der nhi hai ab bhi bandhe,
le le hari ka naam re.
bolo ram bolo ram,
bolo ram ram ram.
tere man me ram tan me ram,
rom rom me ram hai.

See This Lyrics also:   विश्वकर्मा जी की आरती लिरिक्स | shri vishwakarma ji ki aarti lyrics

श्री राम जी के भजन लिखित में

तेरे मन में राम तन में राम

तेरे मन में राम तन में राम ,रोम रोम में राम है।
राम सुमिर ले ध्यान लगा ले ,छोड़ जगत के काम रे।
बोलो राम बोलो राम ,बोलो राम राम राम।

माया में तू उलझा उलझा ,दर दर धूल उड़ाए।
अब करता क्यों मन भारी ,जब माया साथ छुड़ाए।
दिन तो बीता दौड़ धुप में ,ढल जाए ना शाम रे।
बोलो राम बोलो राम ,बोलो राम राम राम।
तेरे मन में राम तन में राम ,रोम रोम में राम है। टेर।

तन के भीतर पांच लुटेरे ,डाल रहे है डेरा।
काम क्रोध मद लोभ मोह ने ,तुझको ऐसा घेरा।
भूल गया तू राम रटना ,भुला पूजा का काम रे।
बोलो राम बोलो राम ,बोलो राम राम राम।
तेरे मन में राम तन में राम ,रोम रोम में राम है। टेर।

बचपन बीता खेल खेल में ,भरी जवानी सोया।
देख बुढ़ापा सोचे अब तू ,क्या पाया क्या खोया।
देर नहीं है अब भी बन्दे ,ले ले हरि का नाम रे।
बोलो राम बोलो राम ,बोलो राम राम राम।
तेरे मन में राम तन में राम ,रोम रोम में राम है। टेर।

See This Lyrics also:   मेरे बांके बिहारी तुम आ जाओ, भजन लिरिक्स | Bhajan Lyrics

anup jalota ke bhajan lyrics

भजन/Bhajan Title = तेरे मन में राम तन में राम
गायक/Singer = = अनूप जलोटा
Bhajan Text- भजन

Leave a Comment